डीएम आवास का घेराव कर शिक्षकों ने किया प्रदर्शन


मुरादाबाद: जनपद की प्राथमिक शिक्षा पर उठ रही अटकलों पर रविवार को खुद शिक्षकों ने ही सवाल खड़े कर दिए। दरअसल हाल ही में समायोजन तबादलों में धांधली का आरोप लगाकर प्राथमिक और जूनियर विद्यालयों के शिक्षक पिछले कई दिनों से धरना प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन उनकी कहीं सुनवाई नहीं हो रही है। इससे नाराज शिक्षकों ने रविवार को डीएम आवास का घेराव कर प्रदर्शन किया। शिक्षकों ने आरोप लगाया की समायोजन में जमकर भ्रष्ट्राचार हो रहा है। जिसमें खुद बीएसए की भूमिका संदिग्ध है, क्योंकि समायोजन में किसी भी शासनदेश या नियमों का पालन नहीं किया गया है। शिक्षिका रेनू ने बताया की बेसिक शिक्षा विभाग में नियमों को दरकिनार कर कुछ लोगों को मनमानी जगह पोस्टिंग दे दी गयी है। जबकि शासनादेश के विपरीत ट्रांसफर किए जा रहे हैं।

उनके मुताबिक समायोजन में प्रमोशन भी नहीं किया जा रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुए बताया कि किसी स्कूल में अगर विज्ञान के शिक्षक हैं तो विज्ञान के ही शिक्षकों का ट्रांसफर कर दिया गया है। जबकि शासनादेश के मुताबिक स्कूल में कम से कम एक कला, एक भाषा और गणित-विज्ञान का शिक्षक होना चाहिए, लेकिन विभाग में सेटिंग के खेल से ये नियम गड़बड़ा गया है। फिलहाल जिलाधिकारी ने पूरे मामले पर बीएसए से रिपोर्ट मांगी है। वहीं बीएसए के मुताबिक अगर कहीं कोई चूक हुई है तो उसे दूर किया जाएगा, लेकिन शिक्षक इसे जानबूझकर किया गया काम बता रहे हैं।

 –  हिमांशु रस्तोगी