पोस्ट ऑफिस के चौकीदार की हत्या, 6.30 लाख लूटे


खुर्जा: शफाखाना पुलिस चौकी से मात्र दस कदम की दूरी पर पोस्ट आफिस के चौकीदार की हत्या कर बदमाश 6.30 लाख की नगदी लूटकर फरार हो गये। पुलिस की नाक के नीचे बदमाशों ने इस संगीन हत्याकांड को अंजाम दिया है। एसएसपी ने तत्काल प्रभाव से शफाखाना चौकी प्रभारी सहित तीन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। नगर के मुख्य पोस्ट आफिस के चौकीदार की बीती रात्रि अज्ञात बदमाशों ने गला दबाकर हत्या कर दी और 6.30 लाख रूपये लूटकर फरार हो गये। घटना की जानकारी गुरुवार की सुबह उस वक्त हुई जब रोज की भांति पोस्ट आफिस में रेलवे डाक लेकर आये दो युवकों ने देखा कि पोस्ट आफिस का मैनगेट खुला है और जैसे ही दोनों युवक पोस्ट आफिस में अन्दर गये तो देखा कि चौकीदार का शव पड़ा था। ये नजारा देखते ही दोनों युवकों के पैरों तले जमीन खिसक गयी और युवकों ने घटना की जानकारी कोतवाली पुलिस को दी। सूचना मिलते ही आनन-फानन में मौके पर एसपीआरए, सीओ, कोतवाली प्रभारी भारी पुलिस बल के साथ पहुंच गये और मृतक के शव को कब्जे में ले बुलन्दशहर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। पुलिस ने मृतक के परिजनों के आने का भी इंतजार नहीं किया जिस पर परिजनों ने नाराजगी जतायी।

जंक्शन चौकी क्षेत्र के ग्राम शाहपुर निवासी देवी सरन नगर के मुख्य पोस्ट ऑफिस में नौकरी करता थे। विगत वर्ष देवी सरन पोस्ट ऑफिस से रिटायर्ड हो गया जिसको पोस्ट आफिस के अधिकारियों द्वारा प्राईवेट में चौकीदार के पद पर रख लिया गया और विगत बुधवार की देर शाम पोस्ट ऑफिस में आयी 6.30 लाख की नकदी को पोस्ट आफिस के अधिकारी बैंक में जमा नहीं करा पाये। चौकीदार को पोस्ट ऑफिस में नकदी होने की जानकारी थी। वहीं सीओ खुर्जा एवं कोतवाली प्रभारी द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया है कि बीती रात्रि सीओ व कोतवाली प्रभारी नगर के मुख्य चौराहे स्थित पोस्ट आफिस के पास से गश्त करते हुए गुजर रहे थे, इसी दौरान चौकीदार देवी सरन को पोस्ट आफिस के बाहर एक अज्ञात युवक के साथ देखा तो सीओ ने चौकीदार से पूछताछ की और कहा कि इतनी रात में रोड पर कैसे खड़े हो। देवी सरन ने अपने आपको पोस्ट आफिस का चौकीदार बताया और अज्ञात युवक को अपना दोस्त बताया तथा पुलिस वहां से आगे चली गयी।

गुरुवार की तड़के जैसे ही पुलिस को पोस्ट आफिस में हत्या की सूचना मिली तो पुलिस द्वारा अन्दाजा लगाया जा रहा है कि देवी सरन के साथ जो युवक रात में पोस्ट आफिस के बाहर घूम रहा था शायद उसी ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है लेकिन पुलिस स्पष्ट रूप से अभी तक किसी नतीजे पर नहीं पहुंची है तथा शव के पास से पुलिस ने एक शराब का क्वार्टर और दो गिलास बरामद किये हैं। जिसके चलते पुलिस अन्दाजा लगा रही है कि घटनास्थल पर दो युवकों ने शराब का सेवन किया है। सरकारी लूट होने की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुनीराज सिंह ने शफाखाना चौकी प्रभारी अमीचन्द व दो पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है तथा घटना की बारी​की से जांच के लिये मेरठ से नगर में पहली बार खोजी कुत्तों की टीम को बुलाया गया और इस टीम के आने के बाद ही पुलिस का कार्य और भी आसान हो गया।

– आरिफ चौहान