प्रतिमा तोड़ किया फिजा में जहर घोलने का प्रयास


थानाभवन  : शरारती तत्वों ने जनपद की फिजा में जहर घोलने का प्रयास किया। थानाभवन क्षेत्र के गांव रसीदगढ़ में अज्ञात शरारती तत्वों ने संविधान निर्माता डा. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त कर दिया। सुबह क्षतिग्रस्त प्रतिमा देख दलित समाज में आक्रोश फैल गया और सैकड़ों महिला-पुरुष ग्रामीणों ने एकत्र होकर हंगामा शुरु कर दिया। प्रतिमा खंडित करने की सूचना से पुलिस विभाग में भी हड़कंप मच गया। सूचना पर भारी एसपी भारी पुलिसफोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और नई प्रतिमा लगवाने का आश्वासन देकर ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया।

मौके पर पहुंचे बसपा नेता अब्दुल राव वारिस ने भी ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत किया। तनाव को देखते हुए प्रशासन ने आनन-फानन में नई प्रतिमा लगवा दी। उधर गांव में घटना को लेकर रोष बना हुआ है। दंगों का दंश झेल चुके जनपद शामली में फिर से असामाजिक तत्वों ने फिजा में जहर घोलने का प्रयास किया। थानाभवन क्षेत्र के गांव रसीदगढ़ में सुबह के समय जब ग्रामीण उठे तो उन्होंने गांव में मौजूद डा. भीमराव अम्बेड़कर की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त पाया। असामाजिक तत्वों ने हथोड़े से प्रतिमा का हाथ व सिर तोड़ दिया था।

बाबा भीमराव अम्बेड़कर की प्रतिमा के क्षतिग्रस्त होने की सूचना गांव में जंगल की आग की तरह फैल गयी और देखते ही देखते भारी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। बाबा भीमराव अम्बेड़कर की प्रतिमा के क्षतिग्रस्त होने से ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने हंगामा प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में भी हड़कम्प मच गया। सूचना मिलते ही सीओ भवन सुनील त्यागी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन ग्रामीण शांत नहीं हुए।

इस दौरान एसपी डा. अजयपाल शर्मा मौके पर पहुंचे और उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर ग्रामीणों को शांत किया। बसपा नेता राव अब्दुल वारिस भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझा-बुझाकर एसपी से शरारती तत्वों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की। आक्रोशित ग्रामीणों ने बताया कि इससे पहले भी सन 2010 व 2012 में भीमराव अम्बेड़कर की मूर्ति को क्षतिग्रस्त किया गया है, लेकिन पुलिस ने आरोपियों पर कोई कार्यवाही नही की गयी।

एसपी ने ग्रामीणों को पांच दिन के अंदर मामले का खुलासा करने का आश्वासन दिया। इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा अपराध संख्या 281/17, आईपीसी की धारा 295 में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। इस दौरान एडीएम भरत पांडेय, एसडीम एमपी सिंह, सीओ भवन सुनील कुमार त्यागी, एएसपी अनिल कुमार झा समेत कई थानों की फोर्स मौजूद रही।

– (श्रवण, दीपांश)