तिगरी में तीन युवक डूबे, दो को बचाया


गजरौला: शनैश्चरी अमावस्या पर तिगरी में गंगास्नान को आए तीन युवक गहरे पानी में समा गए। उनके चौथे साथी के शोर मचाने पर गोताखोरों ने गंगा में छलांग लगा दी और कड़ी मशक्कत के बाद दो युवकों को सकुशल निकाल लिया। तीसरे शिक्षक साथी का पता नहीं चल सका। जानकारी होने पर पुलिस और परिजन भी वहां जा पहुंचे। देर शाम तक गोताखोर युवक की तलाश में गंगा में ही छाक छान रहे थे। वहीं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था। शनिवार की अपरान्ह लगभग 12 बजे थाना क्षेत्र के गांव अहरौला तेजवन निवासी भूपेंद्र (23) पुत्र राम सिंह, राहुल पुत्र जय सिंह, आकाश पुत्र थान सिंह और दीपक पुत्र परशुराम बाइक से गंगा स्नान करने गंगाधाम तिगरी गए थे। बताते हैं कि चारों गंगा में नहाते-नहाते आगे निकल गए।

इनमें दीपक पीछे रह गया जबकि भूपेंद्र, राहुल और आकाश काफी आगे निकल गए। बताते हैं कि तीनों गहरे पानी में समा गए। उन्हें डूबता देख दीपक ने शोर मचा दिया। इस पर वहां घाट पर मौजूद गोताखोर अशोक पाल, ओमपाल, देवेंद्र शर्मा, मूलचंद यादव और खेमपाल ने गंगा में छलांग लगा दी। वहीं घाट पर मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दे दी। लगभग दो घंटे बाद पुलिस मौके पर पहुंची। तब तक गोताखोर गंगा में डूबे युवकों की तलाश में जुटे हुए थे। उन्होंने राहुल और आकाश को सकुशल निकाल लिया जबकि भूपेंद्र का सुराग नहीं लग सका। हादसे की जानकारी होने पर भूपेंद्र के परिजन भी रोते-बिलखते हुए वहां जा पहुंचे।

बताते हैं कि भूपेंद्र गांव में ही स्थित नवचेतना स्कूल में शिक्षक है। उसके बड़े भाई गजेंद्र और बहन अंजू का विवाह हो चुका है जबकि भूपेंद्र अविवाहित है। मौके पर आई पुलिस ने गोताखोरों के साथ नाव में सवार होकर गंगा में भी चक्कर लगाए। देर शाम समाचार लिखे जाने तक गोताखोर गंगा में ही शिक्षक भूपेंद्र्र की तलाश में जुटे हुए थे।

– नवनीत अग्रवाल