आनंद मैरिज एक्ट लागू करने के लिए योगी से मिले सिरसा


नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में सिख विवाहों का रजिस्ट्रेशन आंनद मैरिज एक्ट के अंतर्गत कराने के लिए भाजपा विधायक मंजिदर सिंह सिरसा ने शनिवार को उत्तर प्रदेश प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके दिल्ली स्थित आवास पर मुलाकात की।मुलाकात के दौरान भाजपा विधायक सिरसा ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सिक्ख विवाहों के रजिस्ट्रेशन में आने वाली दिक्कतों के बारे में विस्तारपूवर्क जानकारी दी। साथ ही उन्होंने इस मुददे पर सीएम को एक पत्र भी सौंपा। मुलाकात के बाद सिरसा ने बताया कि यह एक्ट संसद से पास हो चुका है। यूपी में सिखों को इस एक्ट के लागू न होने के कारण बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि हरियाणा और पंजाब इस एक्ट को पहले ही लागू कर चुके हैं जबकि दिल्ली एक्ट लागू करने के लिए प्रक्रिया पूरी करने के नजदीक है। उत्तर प्रदेश में एक्ट लागू करने की अपील करते हुए भाजपा विधायक ने कहा कि राज्य की सिक्ख जनसंख्या चाहती है कि उनके विवाहों का रजिस्ट्रेशन आनंद मैरिज एक्ट के अंतर्गत हो परन्तु इसके लागू न होने के कारण वह पुरानी व्यवस्था के अनुसार ही विवाहों का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए मजबूर हैं। जिससे सिखों को बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि सिख युवक-युवतियों का विवाह गुरुद्वारे में होता है। जिसका मैरिज सर्टिफिकेट सरकार जारी करती है। इस सर्टिफिकेट के उपर लिखा होता है कि यह सर्टिफिकेट हिन्दु मैरिज एक्ट के अंतर्गत जारी किया गया है। जब ये युवक-युवती विदेश जाने के लिए वीजा एवं अन्य औपचारिकताओं के लिए आवेदन करते हैं तो संबंधित एजेंसी के अधिकारी मैरिट सर्टिफिकेट पर हिन्दु मैरिज एक्ट लिखा देख इसे फर्जी बता देते हैं। इससे सिख लोगों को मानसिक पीड़ा होती है।