दो अन्तर्राज्यीय शराब तस्कर दबोचे


बिजनौर: पुलिस ने गत रात्रि मण्डावर बाईपास चौराहे पर चैंकिग के दौरान, पुलिस पार्टी ने बमुश्किल अपनी जान बचाते हुए आवश्यक बल प्रयोग कर एक कैण्टर आयसर को अवैध शराब की 350 पेटी और दो व्यक्तियों सहित पकड़ा। जनपद बिजनौर में हरियाणा व पंजाब राज्य से अवैध तरीके से शराब की तस्करी की घटनाओं को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक, बिजनौर अतुल शर्मा द्वारा अपर पुलिस अधीक्षक नगर आर.डी. चौरसिया के निर्देशन में क्षेत्राधिकारी नगर असित श्रीवास्तव के कुशल पर्यवेक्षण में स्वाट टीम/सर्विलांस सैल को निर्देशित किया गया है, जिसके क्रम में गत रात्रि मण्डावर बाईपास चौराहे पर थाना को शहर पुलिस/क्राईम ब्रान्च द्वारा मुखबिर की सूचना पर चैंकिग के दौरान एक कैण्टर आयसर जिस पर आगे नंबर प्लेट एच.आर. 45 ए 1040 व पीछे नंबर प्लेट एच.आर. 40 ए 1049 लगी हुई थी, को रोकने का प्रयास किया तो कैण्टर चालक द्वारा पुलिस पार्टी को जान से मारने की नियत से गाडी पुलिस पार्टी के ऊपर चढाने का प्रयास किया।

पुलिस पार्टी द्वारा बमुश्किल अपनी जान बचाते हुए आवश्यक बल प्रयोग करके उक्त गाडी को रोककर चैक किया तो कैण्टर में तिरपाल से ढ़ककर रूई की कतरन के बोरे भ्रमित करने के उद्देश्य से लादकर उनके नीचे अवैध शराब की 350 पेटी जिनमें पव्वे व बोतल भरे बरामद हुई तथा कैण्टर में बैठे नरेन्द्र पुत्र घसीटा नि. श्रवणपुर थाना नजीबाबाद, बिजनौर व शेखर पुत्र सतपाल नि. नूरवाला हरिसिंह चौक थाना सदर पानीपत हरियाणा को गिरफ्तार किया गया।

उक्त अभि.गण ने पूछताछ में बताया कि यह शराब गजेन्द्र उर्फ चुहियां पुत्र घसीटा नि. श्रवणपुर थाना नजीबाबाद, बिजनौर व सोहित पुत्र अशोक नि. कोटला थाना नगीना, बिजनौर व भूरा नि. बहूपुरा थाना किरतपुर, बिजनौर के द्वारा गाडी मालिक रवि नि. झज्जर से बात करके मंगाई थी तथा हम इस गाडी को लेकर आये थे। हम सभी साथ मिलकर हरियाणा के सस्ते दामों में शराब खरीद कर उत्तर प्रदेश में मंहगे दामों में अवैध तरीके से बेचकर धन अर्जित करते हैं। उक्त अभियुक्त शातिर किस्म के अपराधी हैं, जिनके आपराधिक इतिहास की जानकारी आस-पास के जनपदों से की जा रही है।

शेष फरार अभि.गण की गिरफ्तारी हेतु पुलिस टीम गठित कर गिरफ्तारी का प्रयास जारी है। उक्त घटना के अनावरण में उ.नि. वीरेन्द्र सिंह प्रभारी स्वाट, उ.नि. जसवीर सिंह प्रभारी सर्विलांस सैल, कां. कमल गोसाई, कां. मनमोहन, कां. अरविन्द पवांर, कां. आदित्य, कां. विक्रान्त, कां. दुष्यंत, मुख्य आरक्षी चालक किरनपाल सिंह एवं थाना कोतवाली नगर प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा, उ.नि. देवेन्द्र धामा, उ.नि. जगत सिंह, उ.नि. अवनीश कुमार, कां. रविकान्त, कां. राहुल कुमार, कां. नागेन्द्र का योगदान रहा।

– इकबाल अहमद