किसान से घूस मांगने के आरोप में लेखपाल निलम्बित


जौनपुर : उत्तर प्रदेश के जौनपुर में जिलाधिकारी डॉ. बलकार सिंह के निर्देश पर मछलीशहर के उपजिलाधिकारी डॉ. विश्राम यादव ने सोंगरा,सजईकलां के हल्का लेखपाल राकेश सिंह को आज कास्तकार से घूस मांगने और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ अमर्यादित टिपण्णी करने के आरोप में निलंबित कर दिया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मछलीशहर इलाके के लेखपाल ने मुख्यमंत्री के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया था, इतना ही नहीं रिश्वत लेने की बात भी कबूल की जिसे भुक्तभोगी किसान ने रिकार्ड कर लिया है। बीते तहसील दिवस के मौके पर उसने श्री बलकार सिंह को रिकार्डिग सुनाई थी।

जिलाधिकारी ने मामले की जांच का आदेश दिया है। नायब तहसीलदार संतोष शुक्ला द्वारा जांच की गई। सजईकलाखुर्द ग्राम निवासी गुनराजी की पत्नी रामनिरजंन ने उपजिलाधिकारी (एसडीएम) को प्रार्थनापत्र देकर शिकायत की थी कि उनके विपक्षी उनकी भूमिधरी भूमि को जोतने बोने नहीं दे रहे है। एसडीएम ने हल्का लेखपाल और थानाध्यक्ष पवांरा को आदेश दिया कि अवैध हस्तक्षेप नहीं होने दे।

आदेश जब लेखपाल के पास पहुँचा तो भुक्तभोगी का आरोप है कि लेखपाल ने पैमाइश के नाम पर 3500 रूपया रिश्वत ले ली। सुविधा शुल्क लेने के बाद भी हीलाहवाली करने लगा और पांच हजार और रूपये की मांग की। गुनराजी के रिश्तेदार सुशील तिवारी लेखपाल से उसके घर पर मिले जहाँ नशे मे धुत लेखपाल ने न सिर्फ रिश्वत लेने की बात कबूली बल्कि और धनराशि की भी मांग की। शिकायतकर्ता ने जब मुख्यमंत्री से शिकायत की बात की तो वह मुख्यमंत्री के प्रति अपशब्दो का प्रयोग किया। लेखपाल से हुयी सारी बात शिकायतकर्ता ने रिकार्ड कर ली थी।

–  (वार्ता)