योगी सरकार ने जनता के लिए कुछ नहीं किया : अखिलेश


लखनऊ : समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार की सच्चाई अब सामने आ गई हैं उसके बजट में जनता के हित में कुछ भी नहीं है और जनता को नोटबंदी और जीएसटी में उलझा दिया है। विदेश यात्रा से लौटे श्री यादव ने आज यहां पार्टी मुख्यालय पर बड़ी संख्या में आए कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जीएसटी व्यवस्था किसी की समझ में नहीं आ रही है। यह बड़े कारोबारियों के फायदे के लिए है।

किसान की कर्जमाफी भी भूलभुलैया की भेंट चढ़ जाएगी। यह किसान के साथ धोखा हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि योगी सरकार समाजवादी सरकार की जनहित की योजनाएं बंद कर दी गई हैं। ऐसा लगता है कि अब भाजपा सरकार”मंत्र’से ही सभी समस्याओं का समाधान कर देंगी। श्री यादव ने कहा कि भाजपा का उद्देश्य वोट के लिए नफरत फैलाना है। उसके झूठ फैलाने से लड़ाई है। यह बड़ी लड़ाई है। भाजपा ने दिवाली और रमजान, श्मसान और कब्रिस्तान के सवाल उठाकर जनता को भ्रमित किया। गरीब लोगों को उजाड़ा जा रहा है।

भाजपा गरीबों के विरूद्ध है बदले की भावना से राज्य सरकार काम कर रही है। उससे विकास की उम्मीद नहीं। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा राज में अपराध बेतहाशा बढ़े हैं। अपराध नियंत्रण का दावा करने वाले मुख्यमंत्री श्री योगी को बताना चाहिए कि उनकी सरकार ने कितने बड़े अपराधियों, भूमाफियाओं और भ्रष्टाचारियों को पकड़ा है। कितने अपराधी जेल में है और कितने प्रदेश छोड़कर चले गए। सच यह है कि अपराधी बेखौफ है, पुलिस का मनोबल गिरा हुआ है और कानून व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण के बाहर है।