योगी पीएम के संसदीय क्षेत्र जाएंगे


वाराणसी : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार 26 मई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में विभिन्न विकास कार्यों की समीक्षा एवं पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी समारोह में भाग लेने के लिए अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी जा रहे हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री के प्रथम संभावित आगमन से संबंधित कोई भी सूचना नहीं आई है, लेकिन प्रारंभिक सूचना के आधार पर जिला प्रशासन ने अपनी ओर से तैयारियां शुरू कर दीं हैं। उन्होंने बताया कि पहले दिन श्री योगी वाराणसी में स्थित कटिंग मेमोरियल मैदान में आयोजित जन्म शाताब्दी समारोह के समापन अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

इससे पहले वह केंद्र की मोदी सरकार के तीन वर्षों के कार्यकाल की उपलब्धियों से संबंधित एक चित्र प्रदर्शनी का भी मुआयना करेंगे। श्री योगी रात में यहीं विश्राम करेंगे और कुछ साधु-संतों से मुलाकात करेंगे। अगले दिन वह वाराणसी मंडल में चल रहे विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे।

उन्होंने बताया कि जाने-माने गायक एवं श्री मोदी द्वारा नियुक्त स्वच्छता दूत कैलाश खेर कटिंग मेमारियम मैदान में आयोजित समारोह में अपनी सुरीली आवाज के जरिये लोगों का मनोरंजन करने के साथ ही उन्हें स्वच्छता का संदेश देंगे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता ने बताया कि श्री योगी विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण भी कर सकते हैं। भाजपा के उत्तर प्रदेश में भारी बहुमत से सरकार बनने मुख्यमंत्री के रूप में श्री योगी के प्रथम संभावित वाराणसी आगमन से उनके पार्टी कार्यकर्ताओं में काफी उत्साह का माहौल है। वे कार्यक्रम को सफल बनाने की तैयारियों में जुट गए हैं।

– (वार्ता)