मानसून को लेकर प्रशासन तैयार


नई टिहरी: जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका ने कहा कि मानसून को लेकर प्रशासन ने सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं, ग्राम स्तर पर बनायी गयी समितियों एवं 1672 प्रशिक्षितों को सजग रहने के निर्देश दिये गये है। जिला मुख्यालय नई टिहरी स्थित जिला कार्यालय सभागार में आहुत पत्रकार वार्ता में जिलाधिकारी सोनिका ने बताया कि आने वाले मानसून को लेकर प्रशासन द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं, जहां ग्राम स्तर पर समितियों का गठन कर उन्हे सजग रहने को कहा गया है।

वहीं 1672 आपदा प्रशिक्षित ग्राम प्रहरियों से सीधे संवाद की व्यवस्था कर ली गयी है, उन्होने बताया कि युवक व महिला मंगल दलों के फोन नम्बर भी लिये गये हैं जिससे उनकी भी तत्काल मदद ली जा सके, आईआरएस टीमों का गठन कर बैठके की जा रही हैं, जिला मुख्यालय नई टिहरी स्थित आपदा नियंत्रण केन्द्र को और अधिक दुरूस्त किया गया है, मीडिया को घटना-दुर्घटनाओं की जानकारी के लिये मुख्य विकास अधिकारी सहित जल संस्थान के अधिशासी अभियन्ता को जिम्मेदारी दी गयी है।

जिलाधिकारी ने मीडिया व सोशल मीडिया से अपील की है कि आपदा के समय अफवाहें न फैलने दें, उन्होने बताया कि वे हर मामले को गम्भीरता के लेकर काम कर रहीं हैं, उन्होने बताया कि जिले में सभी 7 बाढ़ चौकियों को सक्रिय कर दिया गया है, जिले में 69 स्थाई/अस्थाई हैलीपैड बनाये गये हैं जनपद के 6 स्थानों पर कैम्पर वाहनों को आवश्यक सामग्री से लैस कर तैनात कर दिये गये हैं, उन्होने बताया कि आपदा के दौरान सड़कों की जानकारी देने के लिये लोनिवि, पेयजल की जल संस्थान व बिजली की विद्युत विभाग के अधिशासी अभियंता आपदा नियंत्रण में कर्मचारी तैनात करेंगे जिससे अनावश्यक विलम्ब न होने पाये।

श्रीमती सोनिका ने बताया कि टिहरी जिले में आपदा की दृष्टि से 58 संवेदनशील स्थान है, उन्होने बताया कि जिले में कुल 270 स्थान आपदा की दृष्टि से चयनित किये गये हैं, उन्होने कहा कि आपदा के दौरान टीएचडीसी से जीपीएस मदद ली जायेगी। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी शिव कुमार बरनवाल व अपर जिला सूचनाधिकारी एस एम विजल्वाण मौजूद थे।

– प्रमोद चमोली