केन्द्र सरकार के खिलाफ निकाला पैदल मार्च


हरिद्वार: महानगर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केन्द्र सरकार की उपेक्षा व किसानों के आत्महत्या करने को लेकर ज्वालापुर के जटवाड़ा पुल से पैदल मार्च निकालते हुए जोरदार प्रदर्शन कर नाराजगी जताई। महानगर कांग्रेस संयोजक संजय अग्रवाल ने कहा कि केन्द्र सरकार किसानों के हितों में फैसले नहीं ले पा रही है। किसान कर्ज में दबे हुए हैं। किसान आत्महत्यायें कर रहे हैं लेकिन देश के प्रधानमंत्री किसानों की सुध नहीं ले रहे हैं। उन्होंने केन्द्र पर उपेक्षा का आरोप लगाया और कहा कि मध्य प्रदेश के मंदसौर में हुई घटना से केन्द्र सरकार अब तक सबक नहीं ले रही है किसान तंग हाल है देश का किसान परेशान होगा तो देश कैसे तरक्की करेगा।

यशवंत सैनी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मात्र विदेशों में भ्रमण कर रहे है किसानों की सुध लेने को कोई भी तैयार नहीं है। विभिन्न राज्यों में किसान कर्ज तले दबे हुए है जिन कारणों से किसान आत्महत्यायें कर रहे हैं। किसान विरोधी केन्द्र सरकार को गद्दी पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में किसानों की उपेक्षा स्वीकार नहीं की जायेगी। प्रदेश प्रवक्ता मनीष कर्णवाल एवं सुनील अरोड़ा ने संयुक्त बयान में कहा कि अब केन्द्र द्वारा जीएसटी लगा दिया गया है जीएसटी से गरीबों का भला नहीं होने वाला है।

पूंजीपतियों को केन्द्र सरकार संरक्षण दे रही है। किसान विरोधी नीतियां अपनाई जा रही है। ब्लॉक अध्यक्ष तरूण नैयर, मुस्तकीम अंसारी ने कहा कि केन्द्र सरकार लगातार किसानों का उत्पीडऩ कर रही है। किसानों की आर्थिक स्थिति कमजोर हो चुकी हैं। उन्होंने कहा कि किसान आत्महत्यायें जैसे कदम उठा रहा है लेकिन देश के प्रधानमंत्री चुप्पी साधे हुए हैं।