मुख्यमंत्री को सौंपा ज्ञापन


देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से रविवार को मुख्यमंत्री आवास में एबीवीपी के प्रतिनिधिमंडल ने शिष्टाचार भेंट की। इस अवसर पर प्रतिनिधिमंडल ने 43 बिन्दुओं का ज्ञापन मुख्यमंत्री के समक्ष प्रस्तुत किया। एबीवीपी प्रतिनिधिमंडल की प्रमुख मांगो में निःशुल्क बीमा योजना को लागू करना, काॅलेज में सीटो को बढ़ाना, देहरादून में जन-जातिया छात्रों के छात्रावास का निर्माण, अनुसूचित जाति व जनजाति के छात्रों की छात्रवृति में वृद्धि, काॅलेजो में लाइबे्ररी तथा लैब की स्थापना, पहचान पत्र के आधार पर छात्र-छात्राओं को निशुल्क परिवहन सुविधा, शैक्षिणक कैलेण्डर को शीघ्र लागू करना, काॅलेजो में शिक्षकों के रिक्त पदों को शीघ्र भरना, उत्तराखण्ड बोर्ड से उर्तीण छात्रों को काॅलेजो में एडमिशन में प्राथमिकता देना, छात्र संघ के चुनावों हेतु कम व्यय का प्रावधान, सेमेस्टर सिस्टम पर पुर्नविचार, राज्य में भाषा एवं ललित कला अकादमी की स्थापना, पब्लिक स्कूलो में आरटीई के अर्न्तगत आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के लिए 25 प्रतिशत सीटे सुनिश्चित करना, विवि में अवस्थापना सुविधाओं का विकास, महिला व पत्रकारिता काॅलेज की स्थापना आदि था।

मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने प्रतिनिधिमंडल को कहा कि काॅलेज व विश्वविद्यालय में रचनात्मक वातावरण निर्माण के प्रयास होने चाहिए। हमें राज्य में उच्च शिक्षा में गुणवतापूर्ण संस्थान तथा परीक्षाओं के मूल्यांकन हेतु केन्द्रीय मूल्यांकन पद्धति विकसित करने के प्रयास करने होंगे। डिग्री काॅलेजो में गुणवतापूर्ण शिक्षा को प्रोत्साहन देना होगा।

– सुनील तलवाड़