सीएम ने बच्चों से किया संवाद


देहरादून: प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने बुधवार को सचिवालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के लगभग 2500 छात्र-छात्राओं से सीधा संवाद किया। भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर जन संवाद की श्रृंखला प्रारंभ करते हुए मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं से प्रदेश एवं देश के विकास में बढ़ चढ़ कर योगदान करने का आह्वान किया। लगभग 2 घण्टे तक मुख्यमंत्री तथा राज्य के दूरस्थ क्षेत्रों के छात्र-छात्राओं के मध्य अनौपचारिक तथा रोचक बातचीत हुई। उत्साहित तथा जिज्ञासु छात्र-छात्राओं द्वारा विभिन्न क्षेत्रीय, सामाजिक समस्याओं से लेकर जिले, राज्य तथा राष्ट्रीय महत्व के महत्वपूर्ण प्रश्नों के साथ ही मुख्यमंत्री के निजी जीवन से सम्बन्धित रोचक प्रश्न भी किए गए।

बागेश्वर से छात्र चन्द्रशेखर गुसांई ने प्रश्न किया कि उत्तराखण्ड में प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय आय से अधिक है फिर भी बागेश्वर जनपद में स्वास्थ्य, शिक्षा, सड़क आदि की कमी की समस्याएं क्यों है? मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी प्रति व्यक्ति आय राष्ट्रीय औसत से भी अधिक है। परन्तु हमारे राज्य में भौगोलिक तथा विकास सम्बन्धित विषमताएं है। यदि उधमसिंह नगर तथा बागेश्वर की तुलना की जाए तो यह गैप बहुत बड़ा है। हमने सम्बन्धित जिलाधिकारियो, सीडीओ तथा अन्य अधिकारियों को निर्देश दिये है कि प्रति जिले में प्रति व्यक्ति आय कैसे बढ़ाई जाय इस पर फोकस किया जाय। पौड़ी की छात्रा प्रांजली अग्रवाल ने मुख्यमंत्री से प्रश्न किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान आरम्भ किया, हमारे राज्य में इस दिशा में क्या-क्या प्रयास किए जा रहे है?

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अत्यन्त चिन्ता का विषय है कि पौड़ी तथा पिथौरागढ़ में लिंगानुपात सामान्य से कम है। राज्य सरकार द्वारा इसकी पुष्टि हेतु पुनः अध्ययन करवाया गया। जनपद चम्पावत से अंकित भण्डारी द्वारा जनपद में चिकित्सा तथा स्वास्थ्य सुविधाओं के अभावों पर मुख्यमंत्री से प्रश्न पूछा गया। मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में 2900 चिकित्सकों के पद उपलब्ध है जिनमें से 1100 डाॅक्टर कार्यरत है। श्रीनगर मेडिकल काॅलेज सेना द्वारा संचालित करने पर सहमति कर दी गई है। सेना से सेवानिवृत 120 डाॅक्टरों ने उत्तराखण्ड में अपनी सेवाएं देने का प्रस्ताव रखा हैं । लगभग 200 नये डाॅक्टर अगले माह तक नियुक्त कर दिए जाएंगे। उधम सिंह नगर की छात्रा रूचि साहनी ने प्रश्न किया कि सरकार किसानो के हित के लिए क्या कदम उठा रही है?

– सुनील तलवाड़