सीएम ने कार्यकर्ताओं की सुनीं समस्याएं


देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार बलबीर रोड़ स्थित पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं से भेंट की। मुख्यमंत्री ने कार्यकर्ताओं की समस्याओं और सुझावों को सुना। लगभग 250 कार्यकर्ताओं ने लिखित शिकायतें, प्रार्थना पत्र तथा सुझाव दिए। बहुत से लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए दूरभाष पर अधिकारियों को निर्देश दिए गए। अधिकांश प्रार्थना पत्र आर्थिक सहायता, विकास कार्यों, गंभीर बीमारी के उपचार से संबंधित थे। रावत ने उपस्थित जन को आश्वस्त किया कि सरकार जनता की समस्याओं के प्रति संवेदनशील है। सरकारी कार्यालयों में ऐसा माहौल बनाया जा रहा है कि लोगों के काम समय पर हो। जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि निर्धारित समय पर लोगों की समस्याओं का समाधान हो।

ऑफिस में बायोमैट्रिक हाजिरी, तहसील दिवस का आयोजन, जनता मिलन कार्यक्रम इस दिशा में बढ़ते कदम है। रावत के बलबीर रोड स्थित पार्टी कार्यालय में आयोजित जनता दरबार में एक प्रकरण कोषागार पौड़ी के एक लेखाकार को देहरादून स्थानांतरण के संबंध में प्राप्त हुआ। इस संबंध में निदेशक कोषागार, पेंशन हकदारी उत्तराखण्ड द्वारा अवगत कराया गया है कि समय-समय पर प्रदेश के दूरस्थ जनपदों के कोषागारों में नियुक्त, कार्यरत सहायक लेखाकारो, लेखाकारों द्वारा देहरादून, हरिद्वार, उधमसिंह नगर व नैनीताल आदि जनपदों हेतु स्थानांतरण कराने के लिए जनप्रतिनिधियों के माध्यम से प्रस्ताव प्रेषित किए जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि उत्तराखंड कोषागार अधीनस्थ संवर्ग सेवा नियमावली, 2003 में किए गए प्रावधानों के अनुसार श्रेणी ‘घ’ व ‘ग’ तक के पदधारकों की नियुक्ति प्राधिकारी संबंधित जनपदों के जिलाधिकारी होते हैं। इसलिए जनपदों के कोषागारों में कार्यरत सहायक लेखाकारों व लेखाकारों का स्थानांतरण संबंधित जिले के अंतर्गत ही कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि स्थानान्तरण के संबंध में प्राप्त प्रस्तावों को उचित निर्देश हेतु शासन को प्रेषित कर दिया जाता है, क्योंकि निदेशालय स्तर से इस संबंध में कार्रवाई किया जाना संभव नहीं है।

– सुनील तलवाड़