अन्नदाता आत्महत्या को मजबूर


रुद्रपुर: भाजपा सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाकर कांग्रेस नेता एवं पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ ने सरकार को घेरने के लिए कलक्ट्रेट पर 24 घंटे का उपवास शुरू किया है। यहां आयोजित धरने में कांग्रेस ने चुनाव के दौरान भाजपा पर किसानों का कर्ज माफी का वादा करते हुए जो विज्ञापन छपवाए थे उसकी प्रतियों के पोस्टर लगाए गए। पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि भाजपा सरकार की उपेक्षा के कारण प्रदेश का अन्नदाता आत्महत्या को मजबूर है। इससे भी दुखद बात यह है कि सरकार और सरकारी तंत्र इन आत्महत्याओं की घटनाओं पर संवेदनशील नहीं है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चुनाव के वक्त प्रदेश के किसानों से कहा था कि यदि राज्य में भाजपा सत्ता में आती है तो किसानों के कर्ज माफ किए जाएंगे। किसान उनके झांसे में आ गए और भाजपा की सरकार बनाने में अहम योगदान दिया। नेता डा. इंदिरा हृदयेश ने कहा कि किसानों की आत्महत्या पर सरकार संवेदनशील नजर नहीं आ रही है। उन्होंने कहा कि कर्ज के बोझ तले किसानों के कर्ज माफ करने का जो सपना किसानों को दिखाया गया था, उसे डबल इंजन की सरकार को पूरा करना चाहिए।

– सुरेन्द्र तनेजा