काशीपुर में बालिका इण्टर कॉलेज खुलेगा


काशीपुर: विधायक हरभजन सिंह चीमा के अथक प्रयासों के चलते प्रदेश सरकार ने नगर में 2500 सीटों वाले द्वितीय राजकीय बालिका इण्टर कॉलेज को खोलने की स्वीकृति दे दी है। शीघ्र ही भूमि की तलाश कर इस जीजीआईसी का निर्माण शुरू कर दिया जायेगा। इसके लिए बाजपुर रोड स्थित सूतमिल के पीछे सीलिंग की खाली पड़ी साढ़े तीन एकड़ भूमि व एस्कॉर्ट फार्म में आईआईएम के पास चार एकड़ भूमि को अनुग्रहित किये जाने के बारे में विचार विमर्श किया जा रहा है।

रामनगर रोड स्थित अपने कार्यालय में विधायक चीमा ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए बताया कि उक्त दोनों भूमि चूंकि नगर से कापफी दूर है इसके मद्देनजर नगर के करीब अलीगंज रोड पर पूर्व में गांधी आश्रम उ.प्र. को दी गयी 5 एकड़ भूमि का प्रस्ताव सरकार के समक्ष रख उक्त भूमि को नये जीजीआईसी के लिए लेने पर भी गहर विचार किया जायेगा। उन्होंने बताया कि परिवहन विभाग द्वारा काशीपुर डिपो को स्थानांतरित किये जाने के मुद्दे को उनके द्वारा सत्र में रख उसे मुरादाबाद पर फोर लेन क्रॉस करती सीमा पर स्थानांतरित किये जाने का सुझाव रखा गया जिस पर सरकार द्वारा ग्राम सरवरखेड़ा की भूमिधरी की जमीन को परिवहन विभाग को निःशुल्क हस्तांतरित करने पर ही अग्रेतर कार्यवाही करने की बात कही गयी।

विधायक ने बताया कि सत्र में काशीपुर को जिला बनाने का मामला भी विधनसभा पटल पर रखे जाने पर सरकार ने बताया कि राजस्व परिषद उत्तराखण्ड के अध्यक्ष की अध्यक्षता में जिला पुर्नगठन आयोग का गठन कर दिया गया है तथा काशीपुर को जिला बनाने के संबंध् में प्रत्यावेदन भी प्राप्त हो चुके है, जो जिला पुर्नगठन आयोग के समक्ष प्रेरणाधीन है। उन्होंने बताया कि बरसात से पूर्व ढेला नदी पर छोटे तटबंध् बनाये जाने को भी सिंचाई विभाग को निर्देशित कर दिया गया है। विधायक ने बताया कि उनके द्वारा 37 करोड़ की अनुमानित लागत से बनने वाली 18 सड़कों के प्रस्ताव को भी स्वीकृति दे दी गयी है।

इसके अलावा पक्काकोट स्थित बड़े गुरूद्वारा से रामनगर रोड तक 4.13 करोड़ की अनुमानित लागत से 2.6 किलोमीटर सड़क को राज्य सेक्टर में प्राथमिकता के साथ रखते हुए निर्माण कराने का सुझाव रखा गया है। काशीपुर में टांसपोर्ट नगर के लिए एस्कॉर्ट पफार्म में 25 एकड भूमि दिये जाने का मामला भी सत्र के दौरान खास तौर पर उठाया गया।

– सोनू