क्लस्टर खेती को बढ़ावा देगी सरकार


देहरादून: प्रदेश के कृषि एवं रेशम विकास मंत्री सुबोध उनियाल द्वारा कृषि निदेशालय देहरादून का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कृषि निदेशक एवं अन्य अध्किारियों को निर्देश दिए गए कि सभी अधिकारी और कर्मचारी अपने कार्य के प्रति सजग रहें। उन्होंने चेतावनी दी कि कार्य के प्रति किसी भी प्रकार की उदासीनता सहन नहीं की जाएगी। श्री उनियाल द्वारा किसानों के लिए संचालित कृषि विभाग की योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गई। उन्होंने निर्देशित किया कि समस्त अधिकारी एवं कार्मिक समय पर कार्यालय में अपनी उपस्थिति दें और सरकार द्वारा कृषि के क्षेत्र में किसानों के हित में लिए गए निर्णयों का समयबद्धता एवं गुणवत्ता से क्रियान्वयन करें।

उन्होंने कृषि निदेशालय में हो रहे नवनिर्माण कार्यों का भी स्थलीय निरीक्षण किया गया और मौके पर निदेशक कृषि गौरीशंकर को निर्देश दिए कि निर्माण कार्य में किसी भी प्रकार की शिथिलता नहीं होनी चाहिए तथा निर्माण कार्य गुणवत्ता युक्त हो। कृषि मंत्री ने कहा कि प्रदेश की लगभग दो तिहाई आबादी कृषि पर निर्भर हैं। कृषि गांव में पलायन रोकने का बेहतर माध्यम है। सरकार का प्रयास है कि कृषि क्षेत्र में केन्द्र सरकार के सहयोग से अभिनव प्रयोग किये जाये, जिसके लिए भूमि की प्रकृति के हिसाब से फसल व फलों के क्लस्टर विकसित करने की कार्ययोजना है, साथ ही बच्चों कृषि के प्रति आकर्षण पैदा करने के लिए जिन विद्यालयों में कृषि भूमि उपलब्ध है।