सैनिक स्कूल की ग्रान्ट बढ़ाई


नैनीताल: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत अपने कार्यक्रम के अनुसार घोड़ाखाल मंदिर पहुंचे। जहां उन्होंने गोलू देवता की पूजा अर्चना की। इसके उपरान्त उन्होंने सैनिक स्कूल घोड़ाखाल में 227.37 लाख की लागत से निर्मित जयमल सिंह स्टेडियम का लोकार्पण किया। घोड़ाखाल स्कूल में स्कूल के छात्र-छात्राओं व उपस्थित गणमान्य को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री ने बच्चों की डाइट को 17.50 रुपये से बढ़ाकर 36 रुपये व राज्य सरकार द्वारा सैनिक स्कूल को दी जाने वाली ग्रान्ट को 3 करोड़ से बढ़ाकर 5 करोड़ करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि हम सभी को गर्व है कि उत्तराखण्ड वीर सैनिकों की भूमि है। सैनिक स्कूल घोड़ाखाल की अपनी एक पहचान है यहां से निकले कैडिटों ने देश की सेवा कर नाम कमाया है। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि आज सैन्य बलों के चीफ हमारे उत्तराखण्ड के ही हैं।

उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति स्व. एपीजे अब्दुल कलाम की बात कहते हुये कहा कि ऊंचे-ऊंचे सपने अवश्य देखें, लेकिन खुली आंखों से। उन्होंने विजन 20-20 पुस्तक को अवश्य पढ़ने को भी कहा। उन्होंने सैनिक स्कूल घोड़ाखाल के 37 बच्चे मैरिट में आने पर बच्चों व स्कूल प्रशासन को बधाई दी। श्री रावत ने कहा पढ़ाई के साथ-साथ खेल बहुत आवश्यक है, जिससे मन-मस्तिष्क शांत रहता है व शरीर स्वस्थ्य रहता है। मुख्यमंत्री ने स्कूल कैम्पस के साथ ही आवासीय काॅलोनी का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि भवाली सैनिटोरियम चिकित्सालय को सुपर स्पेसलिस्ट चिकित्सालय बनाया जायेगा।

प्रधानाचार्य सैनिक स्कूल घोड़ाखाल कै. रोहित द्विवेदी ने सभी आगंतुकों का स्वागत करते हुये स्कूल की गतिविधियों की जानकारी दी। इस अवसर पर राम सिंह कैड़ा, संजीव आर्या, नीमा बिष्ट,बलराज मेहता, कमान्डर अरूनिमा, डीएस राठौर, दीपेन्द्र कुमार सहित अनेक गणमान्य, स्कूल स्टाफ व छात्र-छात्रायें मौजूद थी।

– संजय तलवाड़