निकाय चुनाव के चलते भारत-नेपाल सीमा सील


पिथौरागढ़: नेपाल में होने वाले स्थानीय निकाय चुनाव के दृष्टिगत भारत-नेपाल सीमा तीन दिनों के लिए सील कर दी गई है। पिथौरागढ़ जिले में पांच झूला पुलों व चंपावत जिले में शारदा बैराज बैरियर को बंद कर दिया गया है। साथ ही सीमाओं को सील कर सुरक्षा कड़ी कर दी गई। पिथौरागढ़ जिले में भारत और नेपाल के मध्य सीमा रेखा बनाने वाली काली नदी पर बने पांच झूला पुल सीता पुल, धारचूला, बलुवाकोट, जौलजीवी और झूलाघाट हैं। जिसमें सीता पुल उच्च हिमालय में गब्र्यांग के पास है। शेष चार पुलों से प्रतिदिन हजारों की संख्या में दोनों देशों के लोग आवाजाही करते हैं।

धारचूला, जौलजीवी और झूलाघाट के झूला पुल दिन भर व्यस्त रहते हैं। नेपाल के लोग खरीदारी के लिए भारत आते हैं। नेपाल के कुछ सीमावर्ती गांवों का बाजार भी भारत का जौलजीवी बाजार है। इसके अलावा नेपाल के विद्यार्थी पढ़ने के लिए भारत आते हैं। नेपाल में 28 जून तक निकाय के चुनाव के चलते नेपाल प्रशासन ने भारतीय प्रशासन और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) से तीन दिन पुल बंद करने का अनुरोध किया था। इसे देखते हुए सभी पुल आवाजाही के लिए बंद कर दिए गए हैं। इसी तरह चंपावत में शारदा बैराज से होकर नेपाल का मोटर मार्ग भी बंद कर दिया गया है। अब 29 जून की सुबह ही दोनों देशों के बीच आवाजाही शुरू हो सकेगी।