पत्नी व बच्ची की हत्या में पति और प्रेमिका को उम्रकैद


jail

हरिद्वार: अपर सत्र न्यायाधीश प्रथम अमनिंदर सिंह ने घुमाने के बहाने पत्नी व एक वर्षीय बच्ची की हत्या कर उन्हें गंगा में फेंकने के मामले में पति एवं उसकी प्रेमिका को उम्र कैद व पचास हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। फिलहाल दोनों अभियुक्त जिला कारागार में बंद हैं। प्रेमी मूल रूप से बिहार, जबकि प्रेमिका उत्तर प्रदेश निवासी हैं। गाैरतलब है कि उक्त मामला नगर कोतवाली क्षेत्र में जनवरी 2014 का है। यह जानकारी देते हुए शासकीय अधिवक्ता प्रदीप जगता ने बताया कि आरोपी संजीव कुमार शर्मा पत्नी रिंकू व एक वर्षीय पुत्री सुरुती के साथ 17 जनवरी 2014 को हरिद्वार आया था। आरोपी के साथ प्रेमिका रूबि भी थी। संजीव ने 18 जनवरी 2014 को सुबह साढ़े आठ बजे पत्नी के चचेरे भाई को फोन कर कर बताया था कि मध्यरात्रि करीब तीन बजे हरकी पैड़ी पर नहाते समय रिंकू व सुरुति बह गए हैं। इस पर संजय शर्मा ने रिंकू के भाई राजेश शर्मा हाल निवासी महरौली, दिल्ली को घटना की जानकारी दी थी।

राजेश शर्मा ने फरीदाबाद जाकर संजीव कुमार शर्मा के आस-पड़ोस में पूछताछ की तो उसे पता चला था कि संजीव कुमार शर्मा के साथ रूबी पत्नी गुड्डू हाल निवासी सरुरपुर बल्लभगढ़ फरीदाबाद हरियाणा तथा उसकी 10 वर्षीय लड़की शिवी भी गई थी। इसके बाद संजीव शर्मा दिल्ली लौट गया था। 18 जनवरी की दोपहर को संजीव कुमार शर्मा, रूबी व शिवी की मुलाकात कश्मीरी गेट बस अड्डा दिल्ली में राजेश शर्मा से हुई थी। बातचीत के बाद राजेश शर्मा व संजीव शर्मा 18 जनवरी को हरिद्वार लौट गए थे। पूछताछ करने पर संजीव कुमार शर्मा ने राजेश शर्मा को बताया था कि 17 जनवरी 2014 को सुबह वह हर की पैड़ी स्थित एक होटल में ठहरे थे। जहां पर उसने रूबी के कहने पर पत्नी रिंकू को नींद की गोली खिलाकर बेहोश कर दिया था। उसे ले जाकर पुल से गंगा में फेंक दिया था। कुछ देर बाद सुरूती को भी गंगा में फेंक दिया। जानकारी मिलने पर राजेश शर्मा ने संजीव कुमार शर्मा व रूबी के खिलाफ नगर कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत कराया था।

– संजय चौहान