जीएसटी के विरोध में बाजार रहे बंद


रुद्रपुर: कपड़ा व्यापारियों ने कपड़े पर जीएसटी लागू होने का विरोध करते हुए बाजार बंद रखा। इस दौरान कपड़ा व्यापारियों ने कहा कि कपड़ा और साड़ी पर जीएसटी किसी कीमत पर बर्दास्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि जीएसटी लागू कर सरकार छोटे और मझौले व्यापारियों का जीना हराम कर देंगी। क्योंकि इसे टैक्स के दायरे में आने से छोटे कपड़ा व्यापारी तबाह हो जाएंगे। उनकी मांगों में साडियों और कपड़ों पर लगने वाला कर समाप्त किया जाए।

उन्होंने कहा रोटी, कपड़ा मानव समाज की बुनियादी जरूरतें है, फिर भी सरकार ने व्यापारियों के साथ लोगों की इन जरूरतों को छीन लिया। कपडा व्यापार संघ से जुड़े तमाम व्यापारियों ने जीएसटी के विरोध में कपड़ा की दुकाने बंद कर सरकार को चेताया कि इसके लिए यदि कपड़ा व्यापारियों को आंदोलन के लिए जाना पड़ा तो वह पीछे नहीं हटेंगे। अनिश्चितकालीन बंद भी करना पड़ा तो व्यापार बंद कर आंदोलन को सफल बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि कपड़े पर जीएसटी किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस दौरान कपड़ा व्यापारी संघ के अध्यक्ष अमित अरोरा (बाबी), सुनील अरोरा, हरीश गुल्यानी, पवन गावा, रविन्द्र रस्तोगी आदि मौजूद थे।