शहरी विकास मंत्री को सौंपा ज्ञापन


हरिद्वार: जिला प्रशासन द्वारा चिन्हित हो चुके राज्य आंदोलनकारियों की अभी तक सूची जारी न करने पर राज्य आंदोलनकारियों में भारी आक्रोश है। राज्य आंदोलनकारियों ने जिला प्रशासन के विरूद्घ नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। आक्रोशित समस्त राज्य आंदोलनकारी आज चिन्हित राज्य आंदोलनकारी समिति के केन्द्रीय अध्यक्ष जेपी पान्डे के नेतृत्व में शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को उनके खन्ना नगर कार्यालय पर जाकर एक हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन देकर चिन्हित राज्य आंदोलनकारियों की सूची अविलम्ब जारी करने की मांग की।

ज्ञापन में शहरी विकास मंत्री को बताया कि चिन्हीकरण की अंतिम तिथि शासनादेश अनुसार 30 अप्रैल 2017 थी और अंतिम तिथि से पूर्व 15, 22 एवं 29 अप्रैल 2017 को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में रोशनाबाद कार्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, अपर जिलाधिकारी, रूड़की, लक्सर, हरिद्वार के उप जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी, सूचना अधिकारी, एलआईयू एवं चिन्हीकरण समिति के 10 सदस्यों की उपस्थिति में राज्य आंदोलनकारियों का चिन्हीकरण हुआ था परन्तु दो माह बीत जाने के बाद भी अभी तक सूची जारी नहीं की गयी जिसको लेकर राज्य आंदोलनकारियों में भारी आक्रोश है।

शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक ने चिन्हित राज्य आंदोलनकारी समिति के केन्द्रीय अध्यक्ष जेपी पान्डे के नेतृत्व में मोहन सिंह रावत, मंजू लोहनी, रश्मिी जोशी, कमल ढौड़ियाल, बसंती पटवाल, सावित्री बिष्ट, आरएस नेगी, अंजना बड़थ्वाल, विजय राम चमोली आदि को आश्वासन दिया कि शीघ्र जिलाधिकारी के साथ बैठक कराकर इसका समाधान निकाला जायेगा।