सुपरवाइजर की बदसलूकी से भड़की महिला श्रमिक


हरिद्वार: एक फैक्ट्री की महिला श्रमिकों ने एक सुपरवाइजर पर बदसलूकी व गाली-गलौज करने का आरोप लगाकर फैक्ट्री गेट के सामने प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने सुपरवाइजर से माफी मांगने की मांग की। महिलाओं ने कार्रवाई न होने पर विभिन्न श्रमिक संगठन बुलाकर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी दी। बताते चलें कि गांव अम्बुवाला के निकट एक फैक्ट्री है। इस फैक्ट्री में काम करने वाली श्रमिक महिलाओं ने सोमवार को गेट पर जमकर हंगामा किया। महिलाओं ने फैक्ट्री के सुपरवाइजर के खिलाफ आक्रोश जताया। उन्होंने कहा कि फैक्ट्री कर्मी समय से अधिक कार्य कराने और गालीगलौज कर उन पर नौकरी छोड़ने का दबाव बना रहे हैं।

महिलाओं ने कहा कि मना करने पर उनके साथ मारपीट व गालीगलौज की जा रही है। बबली, सुमन, राखी, सीता, प्रीति ने बताया कि सुपरवाइजर के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो हर रोज फैक्ट्री गेट पर धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। हंगामा होता देख मौके पर पुलिस को बुलाया गया। पुलिस के समझाने के बाद महिलाओं और प्रबंधन के बीच वार्ता हुई। महिलाओं ने सुपरवाइजर के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी। सुपरवाइजर के खिलाफ कार्रवाई के आश्वासन के बाद महिलाएं काम पर लौटी। प्रदर्शनकारियों में नीलम देवी, कुसुम, लता, संगीता, पूनम, कोमल, रीना, सुनीता, ममता, ऋतु, लक्षमन, अनिता, राखी, कमलेश, अंजना, रजनी, कुसुम, पूजा, सुधा, बबली के अलावा पुरूष कर्मी अरुण कुमार, राजीव, अर्जुन, सचिन, महिपाल, प्रदीप कुमार, अहसान, विपिन कुमार, मनोज, विजय पाल आदि मौजूद रहे।