एनजीटी ने जंगल की आग पर दिशा-निर्देश मांगे


नयी दिल्ली: राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) ने उतराखंड और हिमाचल प्रदेश की सरकारों को राष्ट्रीय वन्य आग रोकथाम और नियंत्रण दिशा-निर्देश जमा करने का निर्देश दिया है।अधिकरण के अध्यक्ष न्यायमूतऱि् स्वतंत्र कुमार की पीठ ने दोनों राज्य सरकारों को 2016 से शुरू जंगल की आग की संख्या के बारे में भी अवगत कराने का निर्देश दिया है।पीठ ने कहा, ‘ ‘हम चाहते हैं कि दोनों राज्य हमें अवगत कराए कि 2016 की तुलना में 2017 में जंगल में आग की कितनी घटनाएं हुयी।

वन्य आग पर आप राष्ट्रीय दिशा-निर्देश भी रिकार्ड पर रखिए। ‘ ‘ मामले में अधिकरण ने अपना फैसला नहीं सुनाया है। अगली सुनवाई 24 जुलाई को होगी। हिमाचल प्रदेश में 2016-17 के दौरान वन्य आग की 1545 घटनाओं में 13069 हेक्टेयर जमीन प्रभावित हुयी और इससे 1.53 करोड़ रूपये का नुकसान हुआ। वर्ष 2015-16 में 5749.95 हेक्टेयर क्षेत्र में आग की 672 घटनाओं से 1.34 करोड़ रूपये का नुकसान हुआ है।