चिलचिलाती धूप से झुलसे लोग


हरिद्वार: तीर्थनगरी में सूरज की तपिश से लोगों का हाल बेहाल हो रखा है। समूचा जनजीवन न केवल बेहाल बल्कि आगामी समय को लेकर आशंकित है। चिलचिलाती धूप और लू के थपेड़ों ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। गुरुवार को धर्मनगरी का अधिकतम तापमान 42.2 और न्यूनतम 24.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मई महीने में पड़ रही भीषण गर्मी से ही लोग भारी परेशान हैं तो जून महीने में क्या हाल होगा। इन दिनों सुबह 10 बजे से लू चलने लगती है तो शाम होने के बाद भी लू का प्रकोप जारी रहता है।

खुले इलाकों में बिना चेहरा व कान ढके निकलने वाले लोग लू की चपेट में आकर बीमार हो रहे हैं। कूलर, पंखों की हवा भी इस भीषण गर्मी में राहत नहीं दे पा रही है। ऐसे में बहुत ही जरूरी काम हो तभी लोग बाहर निकल रहे हैं, वरना शाम छह बजे ही बाजारों में रौनक दिखती है। गुरुवार के मौसम की बात करें तो सुबह सात बजे ही पूरा वातावरण तीखी धूप की कैद में आ गया था। सुबह नौ बजे ही छत एवं घर के बाहर धूप में खड़ा हो पाना संभव नहीं हो रहा था। सुबह दस बजे तक गर्मी अपने चरम पर आ चुकी थी और लू चलने लगी थी। जैसे जैसे समय बढ़ता जा रहा था, तैसे तैसे गर्मी का प्रकोप बढ़ता जा रहा था।