स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था पर सवाल


health Department

हल्द्वानी: शुक्रवार को सम्पन्न हुई क्षेत्र समिति की बैठक मे ब्लाक प्रमुख भोलादत्त भटट व जनप्रतिनिधियों द्वारा सन् 1962 में स्थापित विकास खण्ड भवन भूमि विकास खण्ड (ग्राम्य विकास विभाग) के नाम दर्ज हुई। जिस पर क्षेत्र पंचायत बैठक में जिला प्रशासन के प्रति धन्यवाद प्रस्ताव पारित किया गया। क्षेत्र समिति की बैठक में सड़क बिजली, पानी स्वास्थ्य, नलकूप, पेंशन, शिक्षा, सिचाई आदि की समस्यायें मुख्यतयाः जनप्रतिनिधियो द्वारा उठाई गयी, साथ ही जनप्रतिनिधियो द्वारा लिये जा रहे विकास शुल्क को ग्रामो मे ही विकास कार्यो में खर्च करने का प्रस्ताव ध्वनि मद से पास किया गया।

बैठक मे स्वास्थ्य विभाग की लचर व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह लगाते हुये जनप्रतिनिधियो ने मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ ना मिलने के साथ ही ग्राम पंचायतो में प्राइवेट एनजीओ द्वारा टीकाकरण किये जाने व पैसे वसूलने पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुये स्वास्थ्य विभाग कर्मीयो द्वारा टीकाकरण कार्य कराने की मांग रखी, साथ ही क्षेत्रो में स्वास्थ्य शिविर लगाने को भी कहा। आदर्श नगर गली नम्बर-7 में जीर्णशीर्ण विद्युत पोल बदलने, बागजाला क्षेत्र में विद्युत तार झूलने, पे्रमपुर लोसज्ञानी में 11 केवी विद्युत तार लाईन शिफ्ट करने, लोहरियासाल, हेडिया, चिनपुर, अमरावती कालोनी, हरिपुरनायक में सुचारू विद्युत हेतु नया ट्रान्सफार्मर लगाने व पुराने ट्रान्सफार्मर की क्षमता बढाने की मांग रखी गई।

प्रधान बमौरी ने सागम्बरी व ईश्वरी विहार में दो विद्युत पोल शिफ्ट करने व तीन नये विद्युत पोल लगाने की मांग रखी। जिस पर मुख्य विकास अधिकारी प्रकाश चन्द्र ने अधिशासी अभियन्ता को 15 दिन के भीतर पोल शिफ्ट करने और नये पोल लगाने के निर्देश दिये। हल्द्वानी ग्रामीण क्षेत्र में बार-बार नलकूप फूंकने से पेयजल समस्याये होने की शिकायत पर अधिशासी अभियन्ता नलकूप एवं जलसंस्थान द्वारा अवगत कराया गया कि हल्द्वानी खण्ड सबसे पुराना खण्ड है, यहां के नलकूप बहुत पुराने है जिनकी मोटर अपनी निर्धारित आयु पूरी कर चुकी है इसलिए मोटर फुक रही है इसके साथ जमीनी जलस्तर गिर रहा है, जिससे मोटर पर लोड बढ़ रहा है।

ब्लाक प्रमुख भोला भटट ने रकसिया नाले में माधवानन्द पलडिया के आगे सिचाई विभाग द्वारा पुरानी पुलिया तोडकर नई पुलिया अभी तक ना बनाने पर नाराजगी व्यक्त की। क्षेत्र पंचायत की बैठक को सम्बोधित करते हुये जिलाधिकारी दीपेन्द्र कुमार चौधरी ने कहा कि अधिकारी विकास कार्यो को मानको और नियमो के अन्तर्गत करें साथ ही मानवीय संवदेना रखते हुये जनता व जनप्रतिधियो के दुखदर्द सुने व समझे तथा प्राथमिकता से कार्य करें। बैठक में तारा सिह नेगी, जया कर्नाटक, सुरेन्द्र सिह विष्ट, मुकुल बलुटिया, अर्जुन विष्ट, भागीरथी विष्ट, एबी बाजपेयी, रमा गोस्वामी,आरएस रावत सहित अनेक अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहाँ क्लिक करें।

– संजय तलवाड़