नदी किनारे अधेड का शव मिलने से सनसनी


रुद्रपुर: क्षेत्र के बगवाड़ा में सत्संग आश्रम के पास से गुजरने वाली नदी के किनारे अधेड़ का शव मिलने से सनसनी फैल गई। अधेड़ के शरीर पर चोटों के निशान से यह प्रतीत होता हैं कि उसकी पीटकर हत्या की गई है। उसके हाथों की हड्डी तक टूटी है, वहीं पुलिस नशे में गिरने से अधेड़ की मौत मान रही है। बगवाड़ा गांव निवासी विक्रम (40) पुत्र शंकर शराब पीने का आदी है। उसके पिता और भाई की मौत हो चुकी है। उसकी भाभी अलग रहती है जबकि बूढ़ी मां विक्रम के साथ रहती थी। विक्रम के पड़ोसियों का कहना है कि वह मजदूरी करके मां का पेट पाल रहा था। सुबह आठ बजे वह घर से निकला था। शाम को करीब चार बजे लोग जंगल से घास लेकर लौट रहे थे तो रास्ते में शराब की अवैध भट्ठी के पास उसकी लाश पड़ी थी। लाश के पास ही कुछ मछली भी पड़ी थी।

पड़ोसियों का दावा है कि विक्रम के शरीर पर पिटाई के बेहिसाब निशान हैं। उसके हाथ की हड्डी भी टूटी है, इससे साफ है कि उसकी पीटकर हत्या की गई है। पड़ोसियों ने कहा कि विक्रम शराब पीने का आदी था। बगवाड़ा के पास ही कुछ बंगाली जाल लगाकर मछली पकड़ते हैं, जहां से चोरी छिपे विक्रम मछली निकाल लाता था। हो सकता है कि मछली निकालने को लेकर उसका किसी से झगड़ा हुआ और उसने पीटकर विक्रम की हत्या कर दी।  दूसरी ओर कोतवाली प्रभारी तुषार बोरा का कहना है कि विक्रम शराबी था वह शराब के नशे में कहीं गिर गया जिससे उसके चोट लगी है। उनका कहना है कि यह हत्या का मामला नहीं है। बल्कि हादसे में विक्रम की मौत हुई है।