पतंजलि के छात्रों ने की गंगा सफाई


patanjali

हरिद्वार : पहाड़ों पर पाये जाने वाली औषधियों का सत्व गंगा के निर्मल जल के साथ मिश्रित होकर आता है जिसमें केवल स्नान मात्र से ही अनेकों रोग दूर हो जाते हैं। लेकिन वर्तमान परिप्रेक्ष्य में बढ़ते प्रदूषण के चलते यह निर्मल धरा भी प्रदूषित हो रही है। प्रदूषण के प्रति समाज को जागृत एवं सचेत करने के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना के तत्वावधन में पतंजलि विश्वविद्यालय, हरिद्वार के छात्र-छात्राओं रा.से.यो. यूनिट 6 व 7 ने ‘गंगा स्वच्छता अभियान’ के तहत मां गंगा की सफाई में सक्रिय योगदान दिया। अभियान में सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने इस अभियान में बढ़ चढ़कर भाग लिया।

विश्वविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने ऋषिकेश के पूर्णानन्द घाट से अभियान की शुरुआत की तथा इसका समापन राम झूला पर हुआ। इस अवसर पर मौजूद छात्रों ने एक स्वर में कहा कि मां गंगा का भारतीय संस्कृति में धार्मिक एवं आध्यात्मिक महत्व है। हमारी पुरातन संस्कृति तथा परम्पराओं में गंगा का उल्लेख है। उन्होंने कहा कि पतंजलि विश्वविद्यालय के कुलाधिपति तथा गंगा रक्षा मंच के संयोजक योगऋषि स्वामी रामदेवजी महाराज ने समय-समय पर गंगा की अविरलता एवं निर्मलता के प्रति अपनी प्रतिबद्घता दोहरायी है।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ।

– संजय चौहान