स्वाइन फ्लू: राज्य में अलर्ट


देहरादून: पिछले एक सप्ताह में स्वाइन फ्लू (एच1 एन1 इन्फलुएन्जा) के तीन मरीजों की मौत के बाद पूरे उत्तराखंड में अलर्ट जारी कर दिया गया है। स्वाइन फ्लू के प्रभावी नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के महानिदेशक डॉ. डी. एस. रावत ने विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की और सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को स्वाइन फ्लू से संबंधित परामर्श जारी कर उन्हें अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, बैठक में बताया गया कि स्वाइन फ्लू के नियंत्रण एवं उपचार हेतु सभी जिलों में एन्टी वायरल औषधि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है जो प्रभावित मरीजों को नि:शुल्क उपलब्ध करायी जा रही हैं।

महानिदेशक डॉ. रावत ने अधिकारियों को समाचार पत्रों एवं विभिन्न माध्यमों से स्वाइन फ्लू से बचाव के बारे में लोगों जागरूक कराने के निर्देश दिये ताकि वे भयभीत न हों। बैठक में स्वाइन फ्लू के मरीजों को लक्षणों के आधार पर कैटेगरी ए, बी व सी के अनुसार वर्गीकृत किए जाने की भी जानकारी दी गयी तथा बताया गया कि कैटेगरी के आधार पर ही उपचार होता है। कैटेगरी ए व बी के मरीजों में सामान्य लक्षण होते हैं, जिनका लैब परीक्षण करवाने की आवश्यकता नहीं होती है और ऐसे मरीजों को चिकित्सकीय परामर्श के उपरान्त घर पर ही आराम की सलाह दी जाती है। केवल कैटेगरी सी के मरीजों का ही लैब परीक्षण करवाने की आवश्यकता होती है।