सहकारिता की भावना ने दी देश को नई दिशा


हल्द्वानी: अंतर्राष्ट्रीय सहकारिता दिवस के अवसर पर प्रदेश सरकार के सहकारिता मंत्री डाॅ धन सिंह रावत की पहल पर पहली बार सूबे में सहकारिता दिवस का आयोजन किया गया। जनपद का मुख्य कार्यक्रम नैनीताल डिस्ट्रिक को-आॅपरेटिव बैंक तथा सहकारिता विभाग के संयुक्त तत्वाधान में विकास खण्ड सभागार हल्द्वानी में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ नैनीताल जिला सहकारी बैंक के चेयरमैन राजेन्द्र सिंह नेगी तथा ब्लाक प्रमुख भोला भट्ट द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

इस अवसर पर जनपद के सहकारी समितियों के पदाधिकारियों के अलावा विभिन्न जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सहकारिता दिवस के कार्यक्रम प्रदेश सरकार के निर्देशानुसार 1 जुलाई से 8 जुलाई के मध्य आयोजित किये गये हैं। इस अवसर पर अपने सम्बोधन में चेयरमैन श्री नेगी ने कहा कि अनेक व्यक्तियों या सस्थाओं द्वारा किसी समान उद्देश्य की प्राप्ति के लिए प्रयास करना सहकारिता है। समान उददेश्य की पूर्ति के लिए अनेक व्यक्तियों व संस्थाओं के सम्मलित संस्था को सहकारी संस्था कहते हैं। श्री नेगी ने कहा भारत में स्वतन्त्रता प्राप्ति से पहले से चल रहा सहकारिता आंदोलन आज लोकप्रिय हो चुका है।

सहकारिता की भावना ने देश को विकास की नई दिशा दी है। इसके चलते नागरिक आर्थिक रूप से समृद्ध तो हुए ही है, साथ ही बेरोजगारी की समस्या भी बहुत हद तक कम हुई है तथा लोगों को विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में रोेजगार के अवसर मिले हैं। प्रदेश के पर्वतीय इलाकों में सहकारिता के माध्यम से पलायन को रोका जा सकता है। उन्होंने सहकारिता से जुडे़ सभी लोगों को अपनी शुभकामनायें दी। अपने सम्बोधन में ब्लाक प्रमुख ने कहा कि सहकारिता का बहुत ही पुराना इतिहास है। अनादिकाल से वर्तमान तक सहकारिता की महत्ता समाज व देश में स्वीकारी गई है। महिलाएं सहकारिता का प्रतीक है। इसलिए महिला समूह द्वारा डेयरी, कुटीर उद्योगों, मौनपालन, मछली पालन, पारम्परिक खेती में सहकारिता की भावना से कार्य करते हुये जहां उन्हें रोजगार के अवसर मिले हैं, वहीं आर्थिक रूप से मजबूत हुयी है। अपने सम्बोधन में सहकारिता विभाग की उपलब्धिया बताते हुये उप निबंधक मंगला प्रसाद त्रिपाठी ने बताया कि प्रदेश में 12 लाख सहाकारी सदस्य हैं।

सरकार द्वारा 30 लाख सहकारी सदस्य बनाये जाने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा सहकारिता सदस्यता अभियान शुरू करते हुये किसान पंजीकरण मोबाइल नम्बर 9759500500 पर मिस काॅल कर सदस्यता हासिल कर सकते हैं। सहकारी बैंक के महाप्रबन्धक, सचिव बीसी पाण्डे ने नैनीताल जिला सहकारी बैंक की विभिन्न योजनाओं पर प्रकाश डाला तथा बैंक द्वारा सहकारिता के बारे में विस्तृत प्रकाश डाला। सहायक निबंधन सहकारिता डीडी गुर्रानी ने सहकारिता विभाग द्वारा किसानो के लिए चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम में राजेन्द्र सिंह रावत, प्रकाश गरजौला, मोहम्मद अनवार, राकेश चोपडा़, सुरेन्द्र सिंह जीना, पंकज सुयाल, निर्मला बोरा, चन्द्र प्रकाश जोशी, लाखन सिंह निगलटिया, प्रताप सिंह बोरा, नन्दाबल्लभ डालाकोटी, दीपक तिवारी के अलावा बडी़ संख्या में विभिन्न सहकारी समितियों पदाधिकारी एवं सदस्य मौजूद थे।

– संजय तलवाड़