बारिश से ग्रामीण का ढहा मकान


मसूरी: उत्तराखंड में मानसून की पहली ही बारिश से ही जौनपुर विकासखंड के पटटी पालीगाड के छनांण गांव में एक ग्रामीण का महान ताष के पत्तों की तरह ढग गया, लेकिन जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ। घर में रह रहे सभी चार लोग किसी तरह जाम बचा कर भागे व पड़ोसियों के यहां षरण ली। जौनपुर विकासखंड ब्लाक मुख्यालय थत्यूड़ से मात्र तीन किमी छनाण गाँव के थान सारी गाड़ में देर रात तेज बारिश के चलते एक मकान ताश के पत्तो की तरह भरभरा कर गिर गया मकान में कुँवर सिह रावत अपने परिवार के साथ रह रहे थे। बारिश इतनी तेज थी कि कुँवर सिह और उनके परिवार ने बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर पड़ोसियों के यंहा भागे।

मकान के अंदर का सारा सामान मलवे में दब गया और पीडि़त परिवार ने पड़ोस में शरण ली हुई हैं घटना जबकि देर रात घटी लेकिन अभी तक जिम्मदार महकमे में से किसी ने भी इस परिवार की सुध नहीं ली। इस मौके पर मकान स्वामी कुँवर सिह रावत ने कहा कि,अगर पड़ोस में रहने वाले लोग उनकी मदद नहीं करते तो कोई अनहोनी भी हो सकती थी। वही पीडि़त परिवार ने सरकार से मददत की गुहार लगाई है क्यों कि मकान के अंदर रखा सारा सामान और मकान पूरी तरह जमीदोज हो गया हैं लेकिन सरकारी उदासीनता का आलम यह है कि ,किसी ने भी अभी तक पीडि़त परिवार की सुध नहीं ली है।