नई दिल्लीः इंतजार की घड़ियां खत्म हुईं, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन 12 जून को सिंगापुर में साथ बैठेंगे। यह एलान खुद राष्ट्रपति ट्रंप ने किया है।  डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से इसकी जानकारी देते हुए लिखा, ‘किम जोंग उन और मेरे बीच होने वाली बहुप्रतीक्षित बैठक सिंगापुर में 12 जून को होगी। हम दोनों इस बैठक को वैश्विक शांति के लिए खास बनाने का प्रयास करेंगे। ‘

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार(4 मई) को कहा था कि उत्तर कोरियाई राष्ट्रपति किम जोंग उन के साथ उनकी शिखर बैठक की तारीख और जगह तय हो गई है और इसकी घोषणा शीघ्र ही की जायेगी। व्हाइट हाउस ने कहा था कि ट्रंप मई तक किम के साथ मुलाकात करने के लिए तैयार हुए थे और स्थान के बारे में तय नहीं हुआ था। ट्रंप ने टेक्सास की यात्रा के लिए व्हाइट हाउस से रवाना होने के मौके पर पत्रकारों से कहा ,‘‘ हमने अब तिथि और स्थान तय कर लिया है और इस संबंध में जल्द ही घोषणा की जायेगी।’’

उन्होंने कहा था, ‘‘हम उत्तर कोरिया के साथ बहुत ही महत्वपूर्ण बातचीत कर रहे हैं और बंधकों के संबंध में बहुत सी चीजें पहले ही हो चुकी हैं।’’ ट्रंप ने कहा, ‘‘जैसा कि मैंने कल कहा था, देखते रहो। मुझे लगता है कि आप बहुत अच्छी चीजें देख रहे होंगे।’’ ट्रंप ने एक ट्वीट में खुद इस बैठक की पुष्टि की थी लेकिन साथ ही कहा था कि उत्तर कोरिया पर अमेरिकी प्रतिबंध तब तक लागू रहेंगे जब तक परमाणु मुक्त करने संबंधी समझौता नहीं हो जाता।

इससे पहले खबर आई थी कि उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से असैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) मिलने के लिए सहमत हो गए थे। डीएमजेड दोनों कोरियाई देशों को विभाजित करता है। सूत्रों ने सोमवार (30 अप्रैल) को बताया कि दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने 27 अप्रैल को सीमावर्ती गांव पनमुन्जोम में हुई ऐतिहासिक बैठक के दौरान किम जोंग को डीएमजेड में ट्रंप से मिलने के लिए राजी किया था। पहले ऐसी प्रबल संभावना थी कि यह मुलाकात इसी स्थल पर होगी।

एक वरिष्ठ अमेरिकी अधिकारी ने सीएनएन को बताया था कि ट्रंप डीएमजेड में मुलाकात के बारे में बात करते रहे हैं और उन्होंने रविवार (29 अप्रैल) को मून के साथ फोन पर हुई बातचीत में भी इसे उठाया था इस लिहाज से डीएमजेड में मिलने का विचार पूरी तरह से चौंकाने वाला नहीं था। ट्रंप ने सोमवार (30 अप्रैल) को संवाददाताओं को बताया कि डीएनजेड में मुलाकात के विचार को लेकर वह उत्साहित है। उन्होंने कहा, “मुझे यह पसंद है, यदि चीजें सकारात्मक रहीं तो वहां बड़ा जश्न होगा, किसी तीसरे देश में नहीं।”

 

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।