सेना में जल्द होगी महिलाओं की भर्ती : सेना प्रमुख


vipin rawat sena chief

जम्मू & कश्मीर में आये दिन हो रहे महिला प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए सेना में महिलाओं की भर्ती करने की तैयारी कर रही है जी हाँ , कश्मीर में पत्थरबाजों द्वारा महिलाओं को ढाल के तौर पर इस्तेमाल करने की घटनाओं से निपटने के लिए सेना एक नए प्लान पर काम कर रही है।

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने शनिवार को इसका खुलासा किया। और कहा कि भारतीय सेना जम्मू कश्मीर जैसे तनावग्रस्त इलाकों में जल्द महिला सैनिकों को तैनात करने जा रही है ताकि महिला प्रदर्शनकारियों से निपटा जा सके। देहरादून में पासिंग ऑउट परेड में भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने साफ कर दिया कि जल्द ही सैन्य पुलिस में अब महिलाओं की भर्ती शुरू की जाएगी।


वही भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का ये भी कहना था कि हमें रैंक एंड फाइल (सैन्य टुकड़ी) में महिलाओं की जरूरत है हमलोग कई बार जब ऑपरेशन में जाते हैं तो वहां आवाम का सामना कराना पड़ता कई बार महिलाओं को हमारे आगे आ जाती हैं ।

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बताया कि सेना में पहले महिलाओं को मिलिट्री पुलिस में भर्ती शुरुआत की जाएगी फिर अगले कदम पर काम किया जायेगा । हम आपको बताना चाहते है कि मिलिट्री पुलिस कैंटोनमेंट और सैन्य प्रतिष्ठानों की सुरक्षा में काम करती है इसके साथ युद्ध और शांति के समय सैनिकों के आवागमन में मदद करती है। इसके अलावा मिलिट्री पुलिस के जिम्मे युद्धबंदियों की भी जिम्मेदारी होती है । और जरूरत पड़ने पर सिविल पुलिस को भी मदद करती है।

जनरल रावत ने साथ ही एक बार फिर दोहराया कि सोशल मीडिया पर भ्रामक सूचनाओं के जरिए कश्मीर के युवाओं को भड़काया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘भारतीय सेना को हर वक्त प्रशिक्षित रहना जरूरी है। हमें अपनी ट्रेनिंग कायम रखने की जरूरत है।’ उन्होंने कहा, ‘हमारी कोशिश रहेगी कि कश्मीर में जो युवक राह से भटक गए हैं वो हथियार डालकर सेना के साथ मिलकर काम करें। फौज को अमन और शांति बहाल करने के लिए बुलाया जाता है। हम वहां मार-धाड़ करने नहीं गए हैं। हम अमन के मकसद के लिए कश्मीर में हैं।

हाल ही में  ने भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने आर्मी द्वारा ह्यूमन शील्ड के इस्तेमाल का बचाव करते हुए कहा था कि जब इस गंदी जंग में पत्थर और पेट्रोल बम फेंके जा रहे हों तो मैं अपने जवानों से ये नहीं कह सकता कि इंतजार करो और मर जाओ। पत्थरबाजों को हम पर पत्थर फेंकने की जगह फायरिंग करनी चाहिए। तब मुझे ज्यादा खुशी होगी। तब मैं वो कर पाउंगा, जो करना चाहता हूं।