17 अप्रैल को महिला कांग्रेस पूरे प्रदेश के मुख्यालयों में काला दिवस मनायेगी : अमिता भूषण


पटना : बिहार प्रदेश महिला कांग्रेस कार्यालय सदाकत आश्रम में प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती अमिता भूषण नेतृत्व में उपस्थित पदाधिकारियों के साथ एक आवश्यक मीटिंग की गई। जिसमें निर्णय लिया गया कि आगामी 17 अप्रैल को महिला कांग्रेस पूरे प्रदेश के मुख्यालयों में काला दिवस मनाएगी। प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती भूषण ने कहा कि आज देश रेप कैपिटल के रूप में तबदील हो चुका है।

हर दिन देश के कोने कोने में महिलाओं पर अत्याचार और अनाचार की घटनाएं हो रही है और सबसे दुखद यह है कि सारी घटनाएं तथाकथित राष्ट्रवादी सत्ता के सरंक्षण में हो रही है। उन्नाव से लेकर कठुआ तक सासाराम से लेकर सूरत तक हर जगह महिलाओं पर बच्चियों पर जो अमानवीय जुल्म हुआ है सबमे वर्तमान सत्ता के शीर्ष नेताओं की या तो संलिप्तता है या फिर संरक्षण। उन्नाव में जुमला चल पड़ा है कि योगी सरकार का नारा है बेटी नही विधायक बचाओ।

वहीं जम्मू के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ हुई दरिंदगी में भाजपा के स्थानीय मंत्री खुलकर दुष्कर्मियों के साथ खड़े हैं। श्रीमती भूषण ने कहा है कि महिला कांग्रेस तबतक चुप नही बैठेगी जब तक अभियुक्तों को कड़ी से कड़ी सजा नही दी जाती । बैठक में प्रदेश अध्यक्ष के अलावा सुश्री जयंती झा, सुनीता साक्षी, सरोज देवी, मोनी देवी पासवान, तवस्सुम राणा, रीता सिंह सहित दर्जनों पदाधिकारी मौजूद थी।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ