कर्नाटक में आज सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे येदियुरप्पा, PM मोदी के आवास पर करेंगे मुलाकात


Yeddyurappa

कर्नाटक में बीजेपी के सबसे बड़ी पार्टी बनने के बाद भी सरकार बनाने में पैदा असमंजस की स्थिति के आज दूर होने की उम्मीद है। कर्नाटक में बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार येदियुरप्पा ने आज सुबह साढे दस बजे विधायक दल की बैठक बुलाई है। येदुरप्पा मुख्यमंत्री पद के प्रत्याशी आज दिल्ली भी पहुंचगे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उनके आवास पर मुलाकात करेंगे। इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कुछ वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री भी मौजूद होंगे। विधायक दल की बैठक के बाद, येदुरप्पा विधायक दल के नेता चुने जाने की जानकारी राज्यपाल को देंगे और सरकार बनाने का आधिकारिक दावा पेश करेंगे।

वहीं, एचडी देवेगौड़ा की पार्टी जेडीएस की बैठक भी आज है। जेडीएस कांग्रेस के समर्थन से सरकार बनाने का दावा कर रही है। बता दें कि कांग्रेस को 78 सीटें मिली है वो दूसरे नंबर की पार्टी बनी है। जबकि जेडीएस को सिर्फ 38 सीटें मिली हैं। अब गेंद राज्यपाल के पाले में है और देखना होगा कि वह सरकार बनाने का न्योता किसे देते हैं। बीएस येदियुरप्पा ने कहा है, ‘’हम सबसे बड़ी पार्टी हैं और ऐसे में सरकार बनाने का मौका मिलना चाहिए। बीजेपी 100 प्रतिशत सरकार बनाएगी और विधानसभा में बहमत भी साबित करेगी।’’ उधर, राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश करने के बाद मीडिया से मुखातिब सिद्धारमैया ने कहा, कांग्रेस ने बिना शर्त जेडीएस को समर्थन दिया है। सिद्धारमैया ने कहा कि गठबंधन की शर्तों पर बाद में फैसला होगा। पहली प्राथमिकता सरकार का गठन है।

सिद्धारमैया ने दावा किया कि उनके पास मैजिक नंबर है। उन्होंने कहा कि दो निर्दलीय विधायकों का भी समर्थन जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के साथ है बता दें कि अगर कांग्रेस और जेडीएस का गठबंधन का दावा चल गया तो जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी कर्नाटक के सीएम भी बन सकते हैं। कुमारस्वामी साल 2006 से 2007 तक कर्नाटक के सीएम रह चुके हैं। कुमारस्वामी रामानगरम से तीन बार विधायक रह चुके हैं। रामानगरम सीट कुमारस्वामी का गढ़ मानी जाती है। साल 2013 में कुमारस्वामी रामानगरम से 40 हजार वोटों से जीते थे।

कुमारस्वामी दो बार लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें की निवर्तमान मुख्यमंत्री सिद्धरमैया भी अपनी परंपरागत चामुंडेश्वरी सीट पर 36 हजार 42 मतों से हार गए। उन्हें जेडीएस के जीटी देवगौड़ा ने हराया। हालांकि, सिद्धरमैया उत्तरी कर्नाटक के बदामी सीट से 1696 मतों मामूली अंतर से जीतने में कामयाब रहे। उन्होंने खनन कारोबारी रेड्डी बंधुओं के करीबी सहायक बी श्रीरामुलू को हराया। येदियुरप्पा ने शिकारीपुरा सीट से 35000 से अधिक मतों के अंतर से जीत दर्ज की।

कुमारस्वामी ने चन्नापाटना और रामनगर सीट से शानदार जीत हासिल की। राज्य विधानसभा चुनाव में 72.13 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। चुनाव आयोग के अनुसार कांग्रेस को 38 फीसदी मत मिले, जबकि बीजेपी को 36.2 फीसदी मत प्राप्त हुए हैं। पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवगौड़ा की जेडीएस को 18.4 फीसदी वोट मिले हैं।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करे।