लखनऊ : उत्तर प्रदेश में होने वाले आईपीएल तथा अन्तरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी मुकाबले अब मनोरंजन कर के दायरे में होंगे। योगी आदित्यनाथ सरकार ने इस बारे में निर्णय लेते हुए शासनादेश जारी किया है। कानपुर के मनोरंजन कर अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने कहा कि अब उत्तर प्रदेश में होने वाले अन्तरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबले और आईपीएल मैच पर मनोरंजन कर लगेगा। प्रदेश सरकार ने गत तीन मई को इस सिलसिले में शासनादेश जारी किया है। कानपुर में स्थित उत्तर प्रदेश के एकमात्र अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम ‘ग्रीन पार्क’ में पिछले हफ्ते दो आईपीएल मुकाबले खेले गये थे।

गुप्ता ने बताया कि मैच के टिकट के मूल्य का 25 प्रतिशत हिस्सा मनोरंजन कर के रूप में वसूला जाएगा। आईपीएल मैच का टिकट काफी महंगा होता है और यह एक कारोबार है, लिहाजा यह मनोरंजन कर के दायरे में आता है। उन्होंने बताया कि इस सिलसिले में पिछले हफ्ते बीसीसीआई को एक नोटिस भेजा जा चुका है, जबकि दूसरा प्रक्रियाधीन है। विभाग बीसीसीआई से मनोरंजन कर की राशि को बकाया के रूप में वसूलेगा। गुप्ता ने बताया कि दिल्ली और महाराष्ट्र की सरकारें पिछले कई सालों से आईपीएल मुकाबलों पर मनोरंजन कर वसूल रही हैं।