BREAKING NEWS

रावत के निष्कासन पर बोले CM धामी-वंशवाद से दूर और विकास के साथ चलने वाली पार्टी है BJP◾कांग्रेस में शामिल हुए बिना भी कांग्रेस के लिए करूंगा काम : हरक सिंह रावत◾Corona Cases in India : पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 2 लाख 58 हजार से अधिक केस दर्ज◾पंजाब में चुनाव टालने की मांग पर आज विचार करेगा निर्वाचन आयोग◾UP विधानसभा चुनाव : निषाद पार्टी ने UP की 15 सीटों पर ठोंका दावा, BJP ने अभी नहीं की पुष्टि ◾PM मोदी आज करेंगे दावोस शिखर सम्मेलन को संबोधित, कोविड समेत कई वैश्विक मुद्दों पर कर सकते हैं बात◾राजधानी दिल्ली समेत कई राज्यों में शीतलहर का कहर जारी, जानें कब तक रहेगा ऐसा मौसम◾Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾हरक सिंह रावत को उत्तराखंड मंत्रिमंडल और पार्टी से किया बर्खास्त, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने पुरी शंकराचार्य से की मुलाकात ◾ नेपाल सरकार का दावा- लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी उसके अभिन्न अंग, निर्माण रोके भारत◾दिल्ली में कोविड-19 के 18,286 मामले आए सामने , 28 रोगियों की मौत ◾भारत के टीकाकरण कार्यक्रम ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में काफी ताकत दी : PM मोदी ◾BJP ने उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह को पार्टी से किया निष्कासित, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल◾Covid -19 को लेकर WHO ने किया बड़ा खुलासा - कोरोना वायरस पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा◾महाराष्ट्र कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 41 हजार से ज्यादा नए मामले, शहर में मिली थोड़ी रहत ◾PM मोदी के नेतृत्व की वजह से 157 करोड़ टीके लगाने वाला पहला देश बना भारत - पूनियां◾

भारत आर-पार की जंग के लिए तैयार

कानपुर : भारतीय टीम कल यहां न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के निर्णायक मुकाबले में उसी संयम और जज्बे से मैदान पर उतरेगी जो उसने दूसरे एक दिवसीय अंतराष्ट्रीय मैच में दिखाया था। तीन मैचों की श्रृंखला के पहले वनडे में हार से लंबे समय बाद दबाव में आये भारतीय खिलाड़ियों ने दूसरे वनडे में शानदार जज्बा दिखाया और बेहतरीन प्रदर्शन कर 1-1 से बराबरी हासिल की।

कप्तान विराट कोहली और उनकी टीम चुनौतियों के लिये तैयार हैं और वे जब ग्रीन पार्क स्टेडियम पर मैदान पर उतरेंगे तो लगातार सातवीं वनडे सीरीज अपने नाम करने के लिये बेताब होंगे जहां दूधिया रोशनी में पहला 50 ओवर का मैच खेला जायेगा। कोहली ने न्यूजीलैंड पर दूसरे वनडे में मिली छह विकेट की जीत के बाद कहा, हम चुनौतियों के लिये तैयार है। हमने वापसी करने की बात की थी और हमने यहां पुणे में वापसी की। हम कानपुर में भी इसी तरह का खेल दिखाने की कोशिश करेंगे। दोनों टीमें गुरूवार को यहां पहुंच गयी थीं, जिससे उन्हें यहां के हालात के अनुरूप ढलने का काफी समय मिल गया जहां थोड़ी ठंडक है।

पुणे में भारतीय टीम ने रणनीति का अच्छी तरह कार्यान्वयन किया, विशेषकर गेंदबाजी में जिसमें फार्म में चल रहे तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह शुरू में और अंतिम ओवरों में अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं। स्पिनरों ने मुंबई में एक दिन के आराम के बाद अच्छी वापसी की। युजवेंद्र चहल पहले मैच में एक भी विकेट हासिल नहीं कर सके थे, उन्होंने दो विकेट झटके जबकि चाइनामैन कुलदीप यादव की जगह उतारे गये अक्षर पटेल ने फार्म में चल रहे टाम लाथम के रूप में विकेट प्राप्त किया। कामचलारू गेंदबाज केदार जाधव ने आठ ओवर गेंदबाजी की और महज 31 रन गंवाये। कोहली हालांकि विजयी संयोजन में छेड़छाड़ नहीं करना चाहेंगे लेकिन यह देखना होगा कि यादव को कल अपने घरेलू दर्शकों के सामने खेलने का मौका मिलता है या नहीं। जहां तक बल्लेबाजी की बात है तो पुणे में भारत के लिये सबसे बड़ी सकारात्मक चीज दिनेश कार्तिक का चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए नाबाद 64 रन की पारी खेलना रही। टीम प्रबंधन ने 2015 विश्व कप के बाद से चौथे नंबर के स्थान के लिये कम से कम 11 खिलाड़ियों को आजमाया है। और कार्तिक ने निश्चित रूप से इस स्थान पर आगे बढ़ने की दावेदारी के लिये काफी अच्छा कर दिया है। उन्होंने सीरीज के शुरूआती मैच में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी की लेकिन उन्होंने खुद ही कहा कि चौथा स्थान उनका पसंदीदा है। शिखर धवन ने छह पारियों के बाद अर्धशतक से ज्यादा का स्कोर बनाया जो भी भारत के लिये अच्छी खबर थी। इस बल्लेबाज ने गेंद को खूबसूरती से खेला और वह कल के मुकाबले में भी अच्छी शुरूआत दिलाने की उम्मीद करेंगे। हालांकि उनके सलामी जोड़दार रोहित शर्मा ने पहले दो मैचों में सात और 20 रन की पारी खेली, उनसे भी बड़े स्कोर बनाने की उम्मीद होगी। घरेलू टीम की तरह न्यूजीलैंड की टीम भी कल जीत की लय में वापसी करने के लिये बेताब होगी क्योंकि वे भारत में सीरीज जीतने के बहुत ही करीब हैं जिससे वे यह मौका छोड़ना नहीं चाहेंगे।