BREAKING NEWS

महाराष्ट्र में कोरोना का कोहराम जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 6,555 नए केस◾खालिस्तानी समर्थक संगठन SFJ पर सरकार की बड़ी कार्रवाई, 40 वेबसाइट्स पर लगाया प्रतिबंध◾घाटे के चलते आने वाले दिनों में टेलीकॉम कंपनियां बढ़ा सकती है फ़ोन कॉल और इंटरनेट के रेट ◾तमिलनाडु में कोरोना वायरस के 4,150 नये मामले आये सामने , मृतकों की संख्या 1,510 पहुंची ◾राजधानी दिल्ली में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 2,244 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 99 हजार के पार◾गुजरात के कच्छ जिले में 4.2 तीव्रता का भूकंप आया, वहीं 4.6 तीव्रता के झटकों से फिर थर्राया मिजोरम ◾गाजियाबाद की अवैध पटाखा फैक्ट्री में धमाके से 7 की मौत, कई लोग घायल◾कानपुर एनकाउंटर : शक के दायरे में चौबेपुर थाना, IG बोले-सबूत मिले तो पुलिसवालों पर दर्ज होगा हत्या का केस◾TMC नेता कल्याण बनर्जी का विवादित बयान, वित्तमंत्री सीतारमण को बताया 'काली नागिन'◾राहुल गांधी का केंद्र पर तंज, कहा-सूर्य, चंद्रमा और सत्य ज्यादा देर छिप नहीं सकते◾रक्षा मंत्री राजनाथ के साथ अमित शाह ने सरदार पटेल कोविड-19 केयर सेंटर का किया दौरा ◾कानपुर घटनाक्रम के लिए ओवैसी ने CM योगी की 'ठोक देंगे' पॉलिसी को बताया जिम्मेदार◾देश में 24 घंटों के दौरान 25 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि,मरीजों की संख्या 6 लाख 73 हजार के पार ◾कानपुर : 8 पुलिसकर्मियों को जान से मारने वाले आरोपी विकास दुबे का साथी दयाशंकर गिरफ्तार◾कोरोना रिकवरी रेट बढ़ने पर बोले CM केजरीवाल- 2 करोड़ लोगों की मेहनत रंग ला रही◾J&K : पुलवामा में आतंकियों ने CRPF के काफिले को IED ब्लास्ट के जरिये बनाया निशाना,एक जवान घायल◾Coronavirus : दुनियाभर में वैश्विक महामारी का प्रकोप जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 11 लाख के पार ◾दिल्ली में रातभर चली तेज हवाओं और बारिश ने दिलाई गर्मी से राहत, मौसम हुआ सुहाना ◾ पूर्वी लद्दाख गतिरोध : चीन से लगी सीमा पर प्रमुख केंद्रों पर तैनाती बढ़ा रही है वायु सेना ◾महाराष्ट्र में कोरोना की सबसे बड़ी उछाल , 7,074 नए मामलों के साथ संक्रमितों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

शहीद हेड कांस्टेबल रतन लाल के परिवार को 1 करोड़ और एक सदस्य नौकरी देंगे - अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी के लोग हिंसा नहीं चाहते हैं और जो उपद्रव हुआ है वह ‘आम आदमी’ ने नहीं किया है और हालात को काबू में करने के लिए सेना को बुलाया जाना चाहिए। 

सातवीं दिल्ली विधानसभा के पहले सत्र में उपराज्यपाल के भाषण पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए श्री केजरीवाल ने बुद्धवार को कहा कि दिल्ली में हिंसा हुई है उसके पीछे कुछ असामाजिक तत्वों, कुछ राजनेता और बाहरी लोगों का हाथ है। दिल्ली के हिंदू हों या मुस्लिम वह कभी भी संघर्ष नहीं चाहते हैं। 

मुख्यमंत्री ने हिंसा पर पूरी तरह से काबू पाने के लिए कहा,‘‘ मैं फिर से गृहमंत्री से अपील करता हूं कि दिल्ली में हालात को काबू करने के लिए आर्मी को बुलाया जाए।’’ दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई क्षेत्रों में बड़ पैमाने पर हिंसा हुई है और इसमें 20 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।मरने वालों में दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल रतन लाल और इंटेलीजेंस ब्यूरो कर्मचारी अमित शर्मा भी शामिल हैं। 

केजरीवाल ने कहा हिंसा में मारे गए दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल के परिजनों को एक करोड रुपए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जायेगी। उन्होंने अपने संबोधन में कहा,‘‘ मैं दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल जी के परिवार को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सरकार उनका पूरा ख्याल रखेगी। सरकार उनके परिवार को एक करोड रुपए की सम्मान राशि और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी।’’ 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिंसा में शहीद हुए दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन इंसानियत के लिए शहीद हुए, इस देश के लिए शहीद हुए। उनहोंने कहा दिल्ली में शांति बनाए रखने के लिए हेड कांस्टेबल रतन लाल की शहादत को हम बेकार नहीं जाने देंगे। 

उन्होंने कहा,‘‘ इस दंगे में हर कोई मारा जा रहा है। राहुल सोलंकी की मौत हो गई वो हिंदू था, जाकिर की मौत हो गई वो मुसलमान था। कुछ असामाजिक तत्व अपने निजी फायदे के लिए जनता को भड़का रहे हैं।’’ उन्होंने कहा सारे धर्मों के लोगों को एक साथ खड़ होने का समय आ गया है और हम सबको एक साथ खड़ होने की जरुरत है। 

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ आधुनिक दिल्ली लाशों की नींव के ऊपर नहीं बन सकती है।’’ श्री केजरीवाल ने कहा कि अब नफरत की राजनीति, दंगों की राजनीति को कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। अब पूरी दिल्ली को एक साथ खड़ होकर कहना होगा कि अब भाई से भाई को लड़ने वाली राजनीति को सहन नहीं किया जायेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ मैं दिल्ली के सारे लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि राज्य सरकार की तरफ से सहायता में कोई कमी नहीं रहेगी, हम दिल्ली की शांति के लिए, दिल्ली की जनता के लिए हर जरुरी कदम उठाएंगे।’ 

जावड़ेकर ने दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस पर लगाया राजनीतिकरण करने का आरोप