BREAKING NEWS

कोविड-19 का प्रकोप : दुनियाभर में कोरोना के मामले 11 लाख के पार, 59 हजार से अधिक लोगों की मौत ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3,072 तक पहुंची, अब तक 75 लोगों की मौत ◾दिल्ली में 445 लोग COVID-19 से संक्रमित, और बढ़ सकते हैं मामलें : CM केजरीवाल◾तबलीगी जमात के मुखिया मौलाना साद ने क्राइम ब्रांच को भेजा जवाब, कहा- अभी सेल्फ क्वारनटीन में हूं, बाकी सवाल बाद में◾स्वास्थ्य मंत्रालय का बयान : देश के कुल कोरोना संक्रमित मामलों में 30 फीसदी तबलीगी जमात के लोग◾राहुल गांधी ने PM मोदी पर साधा निशाना, ट्वीट कर कही ये बात ◾कोविड-19 पर सरकार ने जारी किया परामर्श, चेहरे और मुंह के बचाव के लिए घर में बने सुरक्षा कवर का करे प्रयोग◾जानिये क्यों, पीएम की 9 मिनट लाइट बंद करने की अपील के बाद अलर्ट मोड पर है बिजली विभाग की कंपनियां◾तबलीगी जमातियों पर भड़के राज ठाकरे,कहा- ऐसे लोगों को गोली मार देनी चाहिए ◾PM मोदी ने अटल बिहारी बाजपेयी की कविता को शेयर करते हुए कहा- आओ दीया जलाएं◾देश में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी, गौतम बुद्ध नगर में वायरस के 5 नए मामले आए सामने ◾PM मोदी की दीया अपील पर महाराष्ट्र के ऊर्जा मंत्री ने दी प्रतिक्रिया, कहा- दोबारा सोचने की है जरुरत ◾बिजनौर के आइसोलेशन वार्ड में रखे गए जमातियों ने किया हंगामा, अंडे और बिरयानी की फरमाइश की◾दिल्ली : कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए गंगाराम अस्पताल के 108 स्वास्थ्यकर्मियों को किया गया क्वारनटीन◾प्रियंका ने किया योगी सरकार पर वार, कहा- स्वास्थ्यकर्मियों को सबसे ज्यादा सहयोग की है जरूरत◾देश में 2900 से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित, अब तक 68 की मौत◾कोविड-19 : अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 1,480 लोगों की मौत, इराक में 820 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि◾राजस्थान : कोरोना संक्रमित 60 वर्षीय महिला की मौत, संक्रमण के 191 मामलों की पुष्टि◾जम्मू-कश्मीर में सेना के जवानों ने मुठभेड़ में 2 आतंकवादियों को मार गिराया, ऑपरेशन जारी◾कर्नाटक में कोरोना वायरस से 75 वर्षीय बुजुर्ग की मौत, राज्य में मृतक संख्या बढ़कर 4 हुई ◾

शहीद हेड कांस्टेबल रतन लाल के परिवार को 1 करोड़ और एक सदस्य नौकरी देंगे - अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राजधानी के लोग हिंसा नहीं चाहते हैं और जो उपद्रव हुआ है वह ‘आम आदमी’ ने नहीं किया है और हालात को काबू में करने के लिए सेना को बुलाया जाना चाहिए। 

सातवीं दिल्ली विधानसभा के पहले सत्र में उपराज्यपाल के भाषण पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए श्री केजरीवाल ने बुद्धवार को कहा कि दिल्ली में हिंसा हुई है उसके पीछे कुछ असामाजिक तत्वों, कुछ राजनेता और बाहरी लोगों का हाथ है। दिल्ली के हिंदू हों या मुस्लिम वह कभी भी संघर्ष नहीं चाहते हैं। 

मुख्यमंत्री ने हिंसा पर पूरी तरह से काबू पाने के लिए कहा,‘‘ मैं फिर से गृहमंत्री से अपील करता हूं कि दिल्ली में हालात को काबू करने के लिए आर्मी को बुलाया जाए।’’ दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून(सीएए) को लेकर उत्तर पूर्वी दिल्ली के कई क्षेत्रों में बड़ पैमाने पर हिंसा हुई है और इसमें 20 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।मरने वालों में दिल्ली पुलिस हेड कांस्टेबल रतन लाल और इंटेलीजेंस ब्यूरो कर्मचारी अमित शर्मा भी शामिल हैं। 

केजरीवाल ने कहा हिंसा में मारे गए दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल के परिजनों को एक करोड रुपए और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जायेगी। उन्होंने अपने संबोधन में कहा,‘‘ मैं दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन लाल जी के परिवार को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सरकार उनका पूरा ख्याल रखेगी। सरकार उनके परिवार को एक करोड रुपए की सम्मान राशि और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देगी।’’ 

मुख्यमंत्री ने कहा कि हिंसा में शहीद हुए दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल रतन इंसानियत के लिए शहीद हुए, इस देश के लिए शहीद हुए। उनहोंने कहा दिल्ली में शांति बनाए रखने के लिए हेड कांस्टेबल रतन लाल की शहादत को हम बेकार नहीं जाने देंगे। 

उन्होंने कहा,‘‘ इस दंगे में हर कोई मारा जा रहा है। राहुल सोलंकी की मौत हो गई वो हिंदू था, जाकिर की मौत हो गई वो मुसलमान था। कुछ असामाजिक तत्व अपने निजी फायदे के लिए जनता को भड़का रहे हैं।’’ उन्होंने कहा सारे धर्मों के लोगों को एक साथ खड़ होने का समय आ गया है और हम सबको एक साथ खड़ होने की जरुरत है। 

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ आधुनिक दिल्ली लाशों की नींव के ऊपर नहीं बन सकती है।’’ श्री केजरीवाल ने कहा कि अब नफरत की राजनीति, दंगों की राजनीति को कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। अब पूरी दिल्ली को एक साथ खड़ होकर कहना होगा कि अब भाई से भाई को लड़ने वाली राजनीति को सहन नहीं किया जायेगा। 

मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘ मैं दिल्ली के सारे लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि राज्य सरकार की तरफ से सहायता में कोई कमी नहीं रहेगी, हम दिल्ली की शांति के लिए, दिल्ली की जनता के लिए हर जरुरी कदम उठाएंगे।’ 

जावड़ेकर ने दिल्ली हिंसा को लेकर कांग्रेस पर लगाया राजनीतिकरण करने का आरोप