नई दिल्ली : दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी डॉ. रणबीर सिंह ने संवाददाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि वोटर लिस्ट में नामों को जोड़ने की अंतिम तारीख 13 अप्रैल थी। इसके साथ ही दिल्ली में कुल मतदाताओं को संख्या 1 करोड़ 41 लाख 83 हजार 55 हो गई है। इनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 78 लाख 4 हजार 118, जबकि महिला मतदाताओं की संख्या बढ़कर 73 लाख 78 हजार 238 पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि थर्ड जेंडर की संख्या 706, जबकि सर्विस वोटरों की संख्या 10,622 हो गई है।

रणबीर सिंह ने बताया कि करीब 1 करोड़ 41 लाख मतदाताओं के लिए राजधानी दिल्ली में कुल 13 हजार 816 पोलिंग स्टेशन बनाए गए है। उन्होंने कहा कि सभी पोलिंग स्टेशनों पर कड़े इंतजामात किए गए हैं। सिंह ने कहा कि 13 हजार 816 पोलिंग स्टेशनों पर सारी सुविधाएं उपलब्ध करवाए गए हैं। उन्होंने कहा कि इनमें से 41 पोलिंग स्टेशनों पर रेंप नहीं है जिन्हें जल्द निर्माण कराने के आदेश दिए गए। वहीं 14 ​पोलिंग स्टेशनों पर फर्निचर नहीं हैं जबकि 4 जगहों पर साइनेज नहीं है।

इसके अलावा 4 पोलिंग स्टेशनों पर पेयजल की कमी है जिसे जल्द पूरा कर लिया जाएगा। सिंह ने बताया कि इसके लिए एमसीडी को निर्देश दिए जा चुके हैं। डॉ. रणबीर सिंह ने बताया कि सी विजिल एप के अच्छे रिजल्ट मिल रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब तक सी विजिल एप से 1263 शिकायते मिले है। इनमें से 897 यानि 71 प्रतिशत सही पाए गए हैं। इस पर जिला चुनाव अधिकारी ने कार्रवाई भी कर दी है।

कलस्टर बसों से चलेगा जागरूकता अभियान
लोकतंत्र के महापर्व में हर दिल्ली वालों को जोड़ने के लिए 1676 कलस्टर बसों पर जागरूकता अभियान चलाएगी। कलस्टर बस सेवा से प्रतिदिन लाखों यात्री सफर करते हैं जो सीधे लोगों से जुड़ती है। चुनाव आयोग ने पहले से ही भारतीय रेलवे के साथ चुनाव आयोग का पार्टनशिप है।

पिंक लाइन पर दौड़ेगी चुनाव जागरूकता मेट्रो
डॉ. रणबीर सिंह ने कहा कि लोगों को चुनाव के प्रति जागरूक करने के लिए पिंक लाइन की छह डब्बे वाले मेट्रो सज-धज कर तैयार है। इसे जल्द लोगों के जागरूकता के लिए रवाना कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि दिल्ली की आधी आबादी मेट्रो पर सफर करती है।