BREAKING NEWS

निर्भया के दोषियों को फांसी देना चाहती हैं इंटरनेशनल शूटर वर्तिका, अमित शाह को खून से लिखा खत ◾पश्चिम बंगाल में नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन, कई स्थानों पर सड़कें अवरुद्ध◾नागरिकता संशोधन बिल में बदलाव को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने दिए संकेत◾अनशन पर बैठीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल हुईं बेहोश, LNJP अस्पताल में भर्ती◾CAB के खिलाफ प्रदर्शनों के बाद आज गुवाहाटी और डिब्रूगढ़ के कुछ हिस्सों में कर्फ्यू में ढील◾झारखंड विधानसभा चुनाव: देवघर में प्रत्याशियों की आस्था दांव पर◾ममता ने नागरिकता कानून को लेकर बंगाल में तोड़फोड़ करने वालों को कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी ◾भाजपा ने आज तक जो भी वादे किए है वह पूरे भी किए गए हैं - राजनाथ◾असम में हालात काबू में, 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया : असम DGP◾पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾PM मोदी ने कानपुर में वायुसेना कर्मियों के साथ की बातचीत ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

18 स्कूलों को अभी नहीं मिला फायर एनओसी

 school

नई दिल्ली : साउथ एमसीडी द्वारा संचालित 18 स्कूलों को फायर का एनओसी नहीं मिल सका है। हालांकि फायर एनओसी पाने के लिए साउथ एमसीडी शिक्षा विभाग प्रयासरत है। शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक स्कूलों में फायर सुरक्षा के हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। विभाग की मानें तो एक स्कूल ऐसा भी है जिसे फायर की एनओसी नहीं मिल सकती है क्योंकि यह स्कूल पूरी तरह से पोर्टा कैिबन में चल रहा है। साउथ एमसीडी फायर सेफ्टी रिपोर्ट के अनुसार साउथ एमसीडी 431 स्कूलों का संचालन करती है। 

इनमें से 362 स्कूलों को एनओसी मिल चुका है। 9 स्कूलों की बिल्डिंग अभी भी निर्माणाधीन है। वहीं, 8 स्कूल ऐसे भी हैं जोकि बेहद पतली गलियों में हैं। जबकि 22 स्कूलों में सिविल और इलेक्ट्रिक वर्क का काम जारी है। जिन 18 स्कूलों को फायर एनओसी नहीं मिला है, उनमें से 6-6 स्कूल वेस्ट और सेंट्रल जोन के हैं। 5 स्कूल साउथ जोन व 1 स्कूल नजफगढ़ जोन का है। साउथ एमसीडी शिक्षा विभाग का कहना है कि इस संबंध में काम और प्रयास दोनों किए जा रहे हैं। बच्चों की सुरक्षा से बढ़कर कुछ भी नहीं है। 

हम स्कूलों को फायर सेफ्टी के एंगल से ही तैयार कर रहे हैं ताकि फायर एनओसी सर्टिफिकेट मिल सके और बच्चों को पुख्ता सुरक्षा। साउथ एमसीडी द्वारा संचालित 431 स्कूलों में 2 लाख 22 हजार  बच्चे पढ़ते हैं। बच्चों की सुरक्षा को पुख्ता करने के लिए 434 सुरक्षा कर्मी (डे-गार्ड) तैनात करने की योजना बनाई गई है। इसमें छोटी बच्चियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 375 महिला डे-गार्ड को सौंपी जाएगी। इन डे-गार्डों की भर्ती अर्धसैनिक बलों से सेवानिवृत्त कर्मियों और सिविल डिफेंस के माध्यम से की जानी है जो पहले से ही पूर्ण प्रशिक्षित होंगे।