BREAKING NEWS

दिल्ली में कोरोना से 24 घंटे में 48 लोगों की मौत , 3227 नए मामले भी सामने आए ◾सच्चाई से परे और बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है एमनेस्टी इंटरनेशनल का बयान : गृह मंत्रालय◾ भारत ने अवैध तरीके से लद्दाख को बनाया केंद्र शासित प्रदेश, हम नहीं देते मान्यता : चीन ◾रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘रक्षा भारत स्टार्टअप चैलेंज’ की शुरुआत की, दिशा-निर्देश भी किये लॉन्च◾हाथरस केस : उप्र में ‘जंगलराज’ ने एक और युवती को मार डाला, सरकार ने कहा 'फ़ेक न्यूज़' - राहुल गांधी◾DC vs SRH आईपीएल-13 : दिल्ली कैपिटल्स ने जीता टॉस, गेंदबाजी का किया फैसला◾6 साल में सेना ने खरीदा 960 करोड़ का खराब गोला-बारूद, तकरीबन 50 जवानों ने गंवाई जान : रिपोर्ट ◾LAC विवाद पर भारत का कड़ा सन्देश - अपनी मनमानी व्याख्या जबरन थोपने की कोशिश न करें चीन◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर बवाल, विजय चौक के पास दिल्ली महिला कांग्रेस का जोरदार प्रदर्शन◾बिहार विधानसभा चुनाव : महागठबंधन से अलग हुई RLSP, बसपा के साथ बनाया नया गठबंधन ◾पायल घोष ने महाराष्ट्र के राज्यपाल से की मुलाकात, अनुराग कश्यप मामले में की न्याय की मांग◾विपक्ष के चौतरफा हमले के बीच यूपी सरकार ने हाथरस के पीड़ित परिवार को दी 10 लाख रु की मदद ◾चुनाव आयोग ने 12 राज्यों की 57 सीटों पर उपचुनाव की तारीखों का किया ऐलान, 10 नवंबर को नतीजे◾एनसीबी का बड़ा बयान- ड्रग्स लेने के दौरान सुशांत को रिया ने दिया बढ़ावा◾‘नमामि गंगे’ मिशन के तहत PM मोदी ने उत्तराखंड में 6 बड़ी परियोजनाओं का किया उद्घाटन◾कृषि बिल पर राहुल ने की किसानों से बातचीत, कहा- नए कानून से अन्नदाता बन जाएंगे मजदूर◾हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत पर विपक्ष का योगी सरकार पर हमला, कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल◾देश में एक दिन में कोरोना के 70 हजार नए मामलों की पुष्टि, पॉजिटिव केस 61 लाख के पार◾ विश्व में कोरोना वायरस का कहर तेज, पॉजिटिव केस 3 करोड़ 32 लाख के पार ◾उत्तर प्रदेश : हाथरस में सामूहिक बलात्कार पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

दिल्ली में पानी को लेकर सियासी जंग छिड़ी

नई दिल्ली : केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण द्वारा दिल्ली के पानी को भारतीय मानक ब्यूरो  (बीआईएस) से कराई गई जांच में पानी पीने योग्य न होने की रिपोर्ट के बाद दिल्ली में सियासी जंग छिड़ गई है। यह जंग दिल्ली के तीनों सियासी दल आम आदमी पार्टी, भाजपा और कांग्रेस कूद पड़ी है। 

दिल्ली में विधानसभा चुनाव का माहौल बना हुआ है, ऐसे में भाजपा पानी की इस रिपोर्ट के आधार पर इसे चुनावी मुद्दा बनाने निकल पड़ी है। इससे पहले शनिवार को केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दिल्ली के पानी की रिपोर्ट जारी की थी। रविवार को इस मसले पर आप पार्टी के नेता, मंत्री और सांसद खड़े हो गए और बयानबाजी शुरू हो गई। राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने पासवान को आड़े हाथों लेते हुए तंज किया कि मौसम वैज्ञानिक अब पानी वैज्ञानिक बन गए हैं। 

दिल्ली जल बोर्ड बीआईएस के इस रिपोर्ट को मानने से इंकार ​कर दिया है। मंत्री दिनेश मोहनिया ने केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत के बयान का हवाला देते हुए कहा है कि एक केन्द्रीय मंत्री दिल्ली के पानी की क्वालिटी यूरोपियन स्टैंडर्ड से बेहतर बता रहे हैं तो दूसरे मंत्री दूषित ठहरा हैं, कौन सभी यह तो वही बता पाएंगे? बहरहाल इस मुद्दे ने भाजपा और कांग्रेस को एक मुद्दा दे दिया है, जिसको लेकर दोनों राजनीतिक पार्टियां ​दिल्ली की केजरीवाल सरकार के खिलाफ रणनीति बनाने में लग गई हैं। 

भाजपा ने तो रविवार को घोषणा भी कर दी है कि वह दिल्ली में 400 जगहों से पानी के सैंपल लेकर उनकी जांच करवाएगी और दिल्ली सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करेगी। दूसरी तरफ कांग्रेस ने भी मोर्चा खोलने की घोषणा की है। कांग्रेस का कहना है कि जब तक दिल्ली में शीला दीक्षित की सरकार थी कभी भी ऐसी स्थिति नहीं आई, लेकिन अब तो दिल्ली में प्रदूषण के साथ-साथ दिल्ली का पानी भी दूषित हो गया है। ​

आखिर दिल्ली के लोग कहां जाएंगे? जल्द ही पानी के मुद्दे को लेकर कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी। दूसरी तरफ अपने ऊपर हुए आप पार्टी के हमले के बाद कहा है कि क्यों नहीं शुद्ध पार्टी को भी उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम में शामिल कर दिया जाए, ताकी दूषित पानी को भी उपभोक्ता अदालत में चुनौती दी जा सके।