BREAKING NEWS

अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर निर्मला सीतारमण बोली- भारत की आर्थिक स्थिति बेहतर◾सरकार के आर्थिक सलाहकारों ने भी माना कि संकट में है अर्थव्यवस्था : राहुल गांधी◾पेरिस में PM मोदी का संबोधन, बोले-हिंदुस्तान में अब टेंपरेरी के लिए व्यवस्था नहीं◾ईडी मामले में चिदंबरम को मिली राहत, 26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी◾एफएटीएफ के एशिया प्रशांत समूह ने पाकिस्तान को काली सूची में डाला◾पश्चिम बंगाल : मंदिर में दीवार गिरने से मची भगदड़ में 4 की मौत, ममता बनर्जी ने किया मुआवजा का ऐलान◾मनमोहन सिंह ने राज्यसभा सदस्य के रूप में ली शपथ◾दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ चिदंबरम की याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा SC◾SC ने ट्रिपल तलाक को चुनौती देने वाली याचिका पर केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस ◾कपिल सिब्बल बोले- अर्थव्यवस्था और नागरिकों की आजादी के मकसद को प्रोत्साहन पैकेज की जरूरत◾जयराम रमेश के बाद बोले सिंघवी- मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत◾जानिए कैसे हुआ आईएनएक्स मीडिया मामले का खुलासा !◾प्रह्लाद जोशी बोले- यदि चिदंबरम बेकसूर हैं तो कांग्रेस को नहीं करनी चाहिए चिंता◾भारत, पाकिस्तान को कश्मीर मुद्दे का द्विपक्षीय ढंग से समाधान निकालना चाहिए : मैक्रों ◾PM मोदी ने फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के साथ बातचीत की ◾योगी आदित्यनाथ ने किया मंत्रियों के विभागों का बंटवारा ◾बहरीन में 200 साल पुराने मंदिर की पुनर्निर्माण परियोजना का शुभारंभ करेंगे PM मोदी◾आईएनएक्स मीडिया मामला बना चिदंबरम की परेशानी का सबब ◾शरद पवार, अन्य के खिलाफ बैंक घोटाला मामले में FIR दर्ज करने का आदेश◾आजम खान की याचिका सुनवाई 29 अगस्त को ◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

अगस्ता वेस्टलैंड : दिल्ली HC ने जमानत को चुनौती देने वाली याचिका पर रक्षा डीलर से मांगा जवाब

दिल्ली उच्च न्यायालय ने अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर घोटाले से संबंधित धन शोधन मामले में गिरफ्तार कथित रक्षा एजेंट सुशेन मोहन गुप्ता से बृहस्पतिवार को उसकी जमानत को चुनौती देने वाली ईडी की याचिका पर जवाब मांगा। न्यायमूर्ति सुनील गौड़ ने गुप्ता को नोटिस जारी किया और मामले पर अगली सुनवाई के लिए 12 सितंबर की तारीख तय की। 

ईडी ने निचली अदालत के एक जून के आदेश को चुनौती दी है जिसमें गुप्ता को जमानत दी गई है। ईडी ने गुप्ता को धन शोधन निरोधक कानून के तहत 26 मार्च को गिरफ्तार किया था। निचली अदालत ने पांच लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की जमानती के साथ उन्हें राहत दी थी। अदालत ने आरोपी पर विभिन्न शर्तें लगाई थीं जिनमें यह भी शामिल था कि वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ नहीं करेंगे और अदालत की पूर्व अनुमति के बगैर देश छोड़कर नहीं जाएंगे।

CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान- अनधिकृत कॉलोनियों के मकानों की होगी रजिस्ट्री

ईडी ने जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा था कि जांच शुरुआती स्तर पर है और अगर राहत दी गई तो आरोपी न्याय की जद से बाहर जा सकता है, जांच को बाधित कर सकता है। गुप्ता के वकील ने कहा था कि आरोपी ने हमेशा जांच में सहयोग किया और जब भी जांच एजेंसी को जरुरत पड़ेगी वह हाजिर रहेगा। 

एजेंसी ने 22 मई को गुप्ता के खिलाफ पूरक आरोपपत्र दायर किया था। ईडी के अनुसार, राजीव सक्सेना के खुलासों के आधार पर इस मामले में गुप्ता की भूमिका सामने आयी थी। सक्सेना को संयुक्त अरब अमीरात से प्रत्यर्पित किया गया और एजेंसी ने उसे गिरफ्तार किया था। वह इस मामले में सरकारी गवाह बन गया है।