BREAKING NEWS

बीजेपी का खेला : शिवसेना को कमजोर करना चाहती है भाजपा, शिंदे को मुख्यमंत्री बना ‘क्षेत्रीय भावनाओं’ पर कब्जे की कोशिश◾जानिए ! देवेंद्र से पहले भी ये नेता CM रहने के बाद जूनियर पद कर चुके है स्वीकार , फडणवीस ऐसे करने वाले चौथे नेता◾उद्धव ठाकरे ने नये मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे , उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को दीं शुभकामनाएं ◾सतारा के रहने वाले महाराष्ट्र के चौथे सीएम हैं एकनाथ , शरद पवार ने शिंदे को दी बधाई ◾CM Swearing Ceremony : शीर्ष नेतृत्व के कहने पर देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी चीफ मिनिस्टर◾सुरक्षा एजेंसियों का दावा : जिहाद को निर्यात करने वाले पाकिस्तानी संगठन ने राजस्थान से एकत्रित किया था 20 लाख का चंदा ◾ एकनाथ शिंदे व फडणवीस को प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर दी बधाई ◾CM Swearing Ceremony: एकनाथ शिंदे ने ली महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएम◾ IND vs ENG: BCCI ने किया बड़ा ऐलान, इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट में जसप्रीत बुमराह होगें कप्तान◾शिंदे मंत्रिमंडल में शामिल होंगे फडणवीस: नड्डा◾चार जुलाई को अल्लूरी सीताराम राजू की प्रतिमा का अनावरण करेंगे पीएम मोदी ◾ उद्धव के सामने चुनौतिया का पहाड़, संगठन में मजबूती व हिंदुत्व की पहचान पाने में करनी होगी मेहनत◾ UP News: आजमगढ़ से नवनिर्वाचित सांसद निरहुआ के बड़े भाई कार हादसे में गंभीर रूप से घायल◾Maharashtra Political News: महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री होंगे एकनाथ शिंदे, देवेंद्र फडणवीस ने किया खुलासा◾Inflation: इतने नकली आंसू कैसे बहा लेते हैं, प्रधानमंत्री जी? महंगाई के मुद्दे पर राहुल ने साधा केंद्र पर निशाना ◾ manipur landslide: पीएम मोदी ने की मणिपुर सीएम से बात, आपदा के हालात की समीक्षा ◾Uttar Pradesh: हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगा रोजगार... CM योगी ने किया बड़ा ऐलान, जानें क्या कहा ◾Arunachal landslide:18 के पार पहुंची भूस्खलन में मरने वाले लोगों की संख्या, एक शव और निकाला गया ◾दिल्ली में विधायकों के वेतन में 66 प्रतिशत की वृद्धि, जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी◾ मणिपुर में भूस्खलन के कारण दो लोगों की मौत, कई लापता◾

AIIMS निदेशक कार्यालय में सभी कर्मचारी हुए कोरोना पॉजिटिव, सभी दैनिक भर्तियां और गैर जरूरी सर्जरी बंद

दिल्ली में कोरोना के मामलों में बेतहाशा वृद्धि आ रही है। कोरोना बहुत तेजी से अपने पैर पसार रहा है वहीँ आपको बता दें स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा है कि राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में आज कोरोना वायरस के लगभग 17,000 नए मामले सामने आने की संभावना है। मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले साल 8 मई के बाद यह सर्वाधिक आंकड़ा होगा।

आपको बता दें दिल्ली एम्स की हालत भी बेहद ख़राब हो गई है शुक्रवार को एम्स निदेशक कार्यालय में सभी कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए हैं। बताया जा रहा है कि आठ से ज्यादा कर्मचारी कोरोना की चपेट में आ गए हैं।

एम्स में आज से सभी दैनिक भर्तियां और गैर जरूरी सर्जरी बंद

कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही एम्स में सभी रूटीन भर्तियां दैनिक कार्यकलाप और गैर जरूरी सर्जरियां त्वरित प्रभाव से अगले आदेश तक के लिए रोक दी गईं हैं।

जयप्रकाश नारायण एपेक्स ट्रॉमा सेंटर की ओपीडी शिफ्ट

जय प्रकाश नारायण एपेक्स ट्रॉमा सेंटर के ओपीडी को 8 जनवरी, 2022 से ओल्ड आरएके की ओपीडी में शिफ्ट कर दिया जाएगा, जो पांचवीं मंजिल पर स्थित है।

गुरुवार को एम्स में संक्रमित स्वास्थ्य कर्मचारियों से मिलने पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री मांडविया

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने कोरोना संक्रमित स्वास्थ्य कर्मचारियों से मुलाकात कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी हासिल की। गुरुवार को दिल्ली एम्स पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री ने पहले पीपीई किट को धारण किया और इसके बाद एम्स के न्यू प्राइवेट वार्ड स्थित कोरोना क्षेत्र में प्रवेश किया। इस दौरान उनके साथ एम्स के वरिष्ठ डॉ. अचल श्रीवास्तव भी मौजूद रहे।

एक के बाद एक अलग अलग स्वास्थ्य कर्मचारी से मुलाकात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री को ज्यादातर स्वास्थ्य कर्मचारी हल्के लक्षण ग्रस्त मनिले। स्वास्थ्य कर्मचारियों ने बताया कि वैक्सीन की दोनों खुराक लेने के बाद ही उन्हें इस बार संक्रमण का खतरा बहुत अधिक नहीं रहा है।

दरअसल दिल्ली एम्स में पिछले कुछ दिन में ही 100 से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना वायरस की चपेट में आए हैं। इनमें डॉक्टरों के अलावा नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ और सुरक्षा गार्ड हैं। साथ ही रेजिडेंट डॉक्टरों की संख्या भी काफी अधिक है। न्यू प्राइवेट वार्ड का एक बड़ा हिस्सा एम्स ने कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किया है।

मरीज नहीं, 90 फीसदी स्वास्थ्यकर्मी अस्पताल से बाहर हो रहे संक्रमित : स्वास्थ्य विभाग

कोरोना मरीजों की तुलना में अस्पताल में भर्ती रोगियों की संख्या कम है लेकिन उससे पहले ही यहां के स्वास्थ्य कर्मचारी संक्रमण की चपेट में आने लगे हैं। अब तक 12 अलग अलग अस्पतालों में 465 से ज्यादा स्वास्थ्य कर्मचारी कोरोना संक्रमित हुए हैं जिनमें से अधिकांश घरों में क्वारंटीन हैं। इस पर दिल्ली स्वास्थ्य विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि यह स्वास्थ्य कर्मचारी मरीजों के संपर्क में आने से संक्रमित नहीं हुए हैं। करीब 90 फीसदी कर्मचारी अस्पतालों से बाहर संक्रमित हो रहे हैं। 

दिल्ली एम्स के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लगातार कर्मचारियों के संक्रमित होने की वजह से शीतावकाश को रद्द करते हुए बाकी डॉक्टरों को ड्यूटी पर बुलाया गया है। इसके अलावा जिन लोगों में संक्रमण के लक्षण नहीं हैं उन्हें तत्काल वापस बुलाया जा रहा है। कर्मचारियों के संक्रमित होने की वजह से स्टाफ की कमी को लेकर समस्या आ रही है। इसे लेकर प्रबंधन विचार कर रहा है। जल्द ही कोई समाधान निकाला जाएगा।