BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा : SIT ने शुरू की जांच, मीडिया और चश्मदीदों से मांगे 7 दिन में सबूत◾PM मोदी प्रयागराज में 26,526 दिव्यांगों, बुजुर्गों को बांटेंगे उपकरण◾ओडिशा : 28 फरवरी को अमित शाह करेंगे CAA के समर्थन में रैली को संबोधित◾SP आजम खान के बेटे अब्दुल्ला की विधानसभा सदस्यता खत्म◾AAP पार्टी ने पार्षद ताहिर हुसैन को किया सस्पेंड, दिल्ली हिंसा में मृतक संख्या 38 पहुंची◾दिल्ली हिंसा : अंकित शर्मा की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कई सनसनीखेज खुलासे, चाकू मारकर की गई थी हत्या◾दिल्ली हिंसा सोनिया समेत विपक्षी नेताओं के भड़काने का नतीजा : BJP ◾रॉ के पूर्व चीफ एएस दुलत ने फारूक अब्दुल्ला से की मुलाकात◾दिल्ली हिंसा : AAP पार्षद ताहिर हुसैन के घर को किया गया सील, SIT करेगी हिंसा की जांच◾दिल्ली HC में अरविंद केजरीवाल, सिसोदिया के निर्वाचन को दी गई चुनौती◾दिल्ली हिंसा की निष्पक्ष जांच हो, दोषियों को मिले कड़ी से कड़ी सजा -पासवान◾CAA पर पीछे हटने का सवाल नहीं : रविशंकर प्रसाद◾बंगाल नगर निकाय चुनाव 2020 : राज्य निर्वाचन आयुक्त मिले पश्चिम बंगाल के गवर्नर से◾दिल्ली हिंसा : आप पार्षद ताहिर हुसैन के घर से मिले पेट्रोल बम और एसिड, हिंसा भड़काने की थी पूरी तैयारी ◾TOP 20 NEWS 27 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾T20 महिला विश्व कप : भारत ने लगाई जीत की हैट्रिक, शान से पहुंची सेमीफाइनल में ◾पार्षद ताहिर हुसैन पर लगे आरोपों पर बोले केजरीवाल : आप का कोई कार्यकर्ता दोषी है तो दुगनी सजा दो ◾दिल्ली हिंसा में मारे गए लोगों के परिवार को 10-10 लाख का मुआवजा देगी केजरीवाल सरकार◾दिल्ली में हुई हिंसा का राजनीतिकरण कर रही है कांग्रेस और आम आदमी पार्टी : प्रकाश जावड़ेकर ◾दिल्ली हिंसा : केंद्र ने कोर्ट से कहा-सामान्य स्थिति होने तक न्यायिक हस्तक्षेप की जरूरत नहीं ◾

अनुच्छेद 370 : JNU में केंद्रीय मंत्री जितेन्द्र सिंह के कार्यक्रम के खिलाफ छात्रों ने की नारेबाजी

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के वामपंथी छात्रों ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को रद्द करने के विषय पर केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह के कार्यक्रम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान विश्वविद्यालय परिसर में जब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़े एबीवीपी के छात्रों ने इस प्रदर्शन के खिलाफ प्रदर्शन किया तो स्थिति अनियंत्रित हो गई। 

जेएनयू ने 'अनुच्छेद 370 का उन्मूलन : जम्मू, कश्मीर और लद्दाख में शांति, स्थिरता और विकास' पर एक वार्ता का आयोजन किया था जिसमें जम्मू-कश्मीर से एक वरिष्ठ नेता सिंह को शाम में चार बजे के करीब विश्वविद्यालय के कन्वेंशन सेंटर में लेक्चर देने के लिए आमंत्रित किया गया था।

जितेंद्र सिंह की मौजूदगी के खिलाफ विरोध करने वाले छात्रों का संबंध ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (आईसा) से था। छात्रों के इस समूह ने अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू और कश्मीर को दिए जाने वाले विशेष दर्जे को समाप्त करने के फैसले पर केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगाए। 

आईसा से संबद्ध छात्र विश्वविद्यालय के कन्वेंशन सेंटर के बाहर इकट्ठा होकर नारेबाजी करने लगे जिसके तुरंत बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद समर्थक कुछ छात्र भी वहां पहुंच गए और उन्होंने आईसा के प्रदर्शन के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी जिसके चलते विश्वविद्यालय परिसर में स्थिति अनियंत्रित हो गई। 

दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल ने किया मेरठ में एनकाउंटर, 3 पकड़े, लूटी थीं AK-47

सितंबर में बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में जादवपुर विश्वविद्यालय में वामपंथी छात्रों के एक विरोध प्रदर्शन का सामना करना पड़ा था।