BREAKING NEWS

चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और संविधान विरूद्ध◾राज्यसभा में नागरिकता बिल पेश, अमित शाह बोले- भारतीय मुस्लिम भारतीय थे, हैं और रहेंगे◾प्रियंका का वित्त मंत्री पर वार, कहा-आप प्याज नहीं खातीं, लेकिन आपको हल निकालना होगा ◾2002 गुजरात दंगा मामले में नानावती आयोग ने PM नरेंद्र मोदी को दी क्लीन चिट ◾BJP संसदीय दल की बैठक में PM मोदी ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया ऐतिहासिक◾नागरिकता संसोधन बिल राज्यसभा में पेश होने से पहले बोले राहुल- यह उत्तर पूर्व पर एक आपराधिक हमला◾हैदराबाद एनकाउंटर मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, CP वीसी सज्जनार भी रहेंगे मौजूद◾निर्भया कांड: अजीबोगरीब दलीलों के साथ दोषी अक्षय ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की पुनर्विचार याचिका◾राज्यसभा में आज पेश होगा नागरिकता संशोधन बिल, कांग्रेस देशभर में करेगी प्रदर्शन◾झारखंड: तबरेज अंसारी की हत्या मामले में 6 आरोपियों को हाईकोर्ट से मिली जमानत◾राज्यसभा में CAB पारित कराने के लिए रणनीति बनाने में जुटी भाजपा◾झारखंड विधानसभा चुनाव : तीसरे चरण में भाजपा, झाविमो और आजसू की प्रतिष्ठा दांव पर ◾सोनिया ने पार्टी सांसदों को दिया रात्रिभोज◾UP : चौथी बार बुंदेलियों ने मोदी को लिखी खून से चिट्ठी ◾पूर्वोत्तर में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन, सामान्य जनजीवन ठप पड़ा◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

लाभ के पद मामले में राष्ट्रपति के फैसले का केजरीवाल ने किया स्वागत, ट्वीट कर कही ये बात

 arvind kejriwal

आम आदमी पार्टी (आप) के प्रमुख एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के उस फैसले का जोरदार स्वागत किया जिसमें उन्होंने आप के 11 विधायकों को लाभ के पद के मामले में अयोग्य ठहराये जाने संबंधी याचिका को चुनाव आयोग के सुझाव पर खारिज कर दिया और इन विधायकों की सदस्यता बरकरार रखने का फैसला किया है। 

केजरीवाल ने बुधवार को कोविंद के फैसले पर खुशी का इजहार करते हुए ट्वीट किया,‘‘अंतत: सच्चाई की जीत हुई। सत्यमेव जयते।" आप के नेता एवं दिल्ली के मंत्री राजेंद्र पाल ने भी इस निर्णय का स्वागत करते हुए कहा,"झूठ के आधार पर यह याचिका दायर की गई थी। इसे खारिज तो होना ही था।" 

गौरतलब है कि कोविंद ने आप के 11 विधायकों को लाभ के पद के मामले में अयोग्य ठहराये जाने संबंधी याचिका को चुनाव आयोग के सुझाव पर मंगलवार को खारिज कर दिया और इन विधायकों की सदस्यता बरकरार रखने का फैसला किया। वही, राष्ट्रपति कोविंद ने एक आदेश जारी कर सर्वश्री संजीव झा, नीतिन त्यागी, प्रवीण कुमार, पवन कुमार शर्मा, श्रीदत्त शर्मा, राजेश गुप्ता, दिनेश मोहनिया, अमानुल्लाह खां, कैलाश गहलोत, जरनैल सिंह और सरिता सिंह को अयोग्य ठहराये जाने की याचिका रद्द कर दी है और उनकी विधानसभा सदस्यता बरकरार रखने का निर्णय लिया है। 

इस आदेश की प्रतियां कल मीडिया को जारी की गई। राष्ट्रपति ने इस संबंध में जारी आदेश में कहा है कि उन्होंने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सरकार अधिनियम 1991 के अनुभाग 15 के उप अनुभाग चार के अंतर्गत प्रदत्त अधिकारों के तहत लाभ के पद के मामले में इन विधायकों को अयोग्य ठहराये जाने संबंधी याचिका को खारिज किया है।