BREAKING NEWS

Covid-19 : विश्वभर में संक्रमण के आंकड़े 32.57 करोड़ से अधिक, अमेरिका सबसे ज्यादा प्रभावित देश◾किसी व्यक्ति की सहमति के बिना जबरन टीकाकरण नहीं कराया जा सकता : SC को केंद्र ने बताया ◾दिग्गज कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज का हुआ इंतकाल, 83 साल की उम्र में ली अंतिम सांस◾SP-RLD को नहीं दिया समर्थन, लोगों को समझने में हुई गलती: राकेश टिकैत◾हरक सिंह रावत को उत्तराखंड मंत्रिमंडल और पार्टी से किया बर्खास्त, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल ◾भाजपा की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने पुरी शंकराचार्य से की मुलाकात ◾ नेपाल सरकार का दावा- लिंपियाधुरा, लिपुलेख और कालापानी उसके अभिन्न अंग, निर्माण रोके भारत◾दिल्ली में कोविड-19 के 18,286 मामले आए सामने , 28 रोगियों की मौत ◾भारत के टीकाकरण कार्यक्रम ने कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में काफी ताकत दी : PM मोदी ◾BJP ने उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह को पार्टी से किया निष्कासित, कांग्रेस में हो सकते हैं शामिल◾Covid -19 को लेकर WHO ने किया बड़ा खुलासा - कोरोना वायरस पूरी तरह से समाप्त नहीं होगा◾महाराष्ट्र कोरोना : बीते 24 घंटों में आए 41 हजार से ज्यादा नए मामले, शहर में मिली थोड़ी रहत ◾PM मोदी के नेतृत्व की वजह से 157 करोड़ टीके लगाने वाला पहला देश बना भारत - पूनियां◾ जम्मू-कश्मीर : आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर किया ग्रेनेड से हमला, पुलिसकर्मी और आम नागरिक घायल ◾अमित शाह उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर एक बार फिर से करेंगे मैराथन दौरा◾ मुंबई 1993 ब्लास्ट के आरोपी सलीम गाजी की कराची में हुई मौत, डॉन छोटा शकील का रहा करीबी ◾राजस्थान सरकार का अलवर सामूहिक दुष्कर्म की जांच CBI को सौंपने का निर्णय, हाई लेवल मीटिंग में लिया गया फैसला◾ उत्तर प्रदेश चुनाव के लिए आप ने जारी की 150 उम्मीदवारों की सूची, जानें किसे मिला टिकट◾निषाद पार्टी एक बार फिर BJP के साथ मिलकर लड़ेगी चुनाव, जानिए कितनी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी nishad ◾केंद्र के पश्चिम बंगाल की झांकी को बाहर करने के फैसले पर ममता ने जताई नाराज़गी, PM मोदी को लिखा पत्र◾

हिंसा की घटनाएं बर्दाश्त नहीं की जाएंगी, दोषियों के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई होगी : बीसीआई

दिल्ली में जिला अदालतों के बाहर वकीलों के प्रदर्शन के बीच बार काउंसिल ऑफ इंडिया के अध्यक्ष मनन कुमार मिश्रा ने बुधवार को कहा कि वकीलों, पुलिस और जनता से जुड़ी हिंसा की किसी भी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उच्चतम न्यायालय परिसर में मिश्रा ने बताया कि बीसीआई ने वकीलों और पुलिस के बीच हिंसा की सभी घटनाओं को गंभीरता से लिया है तथा दोषियों के खिलाफ सभी आवश्यक कार्रवाई की जायेगी। 

उन्होंने पुलिसकर्मियों पर मंगलवार को पुलिस मुख्यालय के बाहर अपने प्रदर्शन के दौरान न्यायाधीशों एवं वकीलों के खिलाफ भड़काऊ बयान देने का आरोप लगाया। सोमवार को साकेत जिला अदालत के बाहर एक ऑन ड्यूटी पुलिसकर्मी और शनिवार को तीस हजारी अदालत परिसर में एक वकील के बीच पार्किंग के विवाद के बाद अपने सहकर्मियों की पिटाई के विरोध में पुलिस ने प्रदर्शन किया। 

तीस हजारी झड़प मामले में 20 पुलिसकर्मी और कई वकील घायल हो गये थे। साकेत अदालत के बाहर मोटरसाइकिल पर सवार एक वर्दीधारी पुलिसकर्मी को कोहनी मारते और उसे थप्पड़ मारते हुए वीडियो सामने आने के बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ दो प्राथमिकियां दर्ज की गयी हैं। 

वकीलों का साकेत, रोहिणी और पटियाला कोर्ट में प्रदर्शन जारी, वकील ने की आत्मदाह करने की कोशिश