BREAKING NEWS

LIVE : PM मोदी ने माँ हीराबेन से लिया आशीर्वाद◾जेटली का स्वास्थ्य बिगड़ने संबंधी खबरें झूठी, निराधार : सरकार ◾आतंकवादी भारत के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाएं, इसलिए किया गया था बालाकोट हमला : जनरल रावत ◾अमेठी में सुरेन्द्र सिंह की हत्या पर स्मृति ईरानी बोली - दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवायी जाएगी◾राफेल सौदे में FIR या CBI जांच का कोई सवाल ही नहीं है : केंद्र ◾नरेन्द्र मोदी 30 मई को लेंगे प्रधानमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ◾इमरान खान ने की प्रधानमंत्री मोदी से बात, मिलकर काम करने की इच्छा जताई ◾मोदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी : बाबा रामदेव◾TOP 20 News 26 MAY : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾अमेठी पहुंची स्मृति ईरानी, करीबी पूर्व ग्राम प्रधान सुरेंद्र सिंह की अर्थी को दिया कंधा◾राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में पार्टी के सफाए से राहुल गांधी ज्यादा नाराज !◾अमेठी : सुरेंद्र सिंह के भाई ने बताया- राजनीतिक रंजिश में हुई हत्या◾शारदा घोटाला : सीबीआई ने जारी किया राजीव कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस ◾ISIS की नौकाओं को लेकर खुफिया सूचना के बाद केरल के तटवर्ती इलाकों में हाई अलर्ट ◾मंत्री बनना चाहती हैं हेमा मालिनी◾मोदी की जीत पर विश्व नेताओं की बधाई का जारी है सिलसिला◾ये नए भारत का, नया उत्तर प्रदेश बनाने का जनादेश : योगी आदित्यनाथ◾नरेंद्र मोदी ने उपराष्ट्रपति नायडू से की मुलाकात, बताया शिष्टाचार भेंट◾बिहार : राजद को अब बदलनी होगी जातिवाद की रणनीति !◾प्रचंड जीत के बाद मां हीराबेन से मिलने जाएंगे मोदी, पटेल की मूर्ति पर करेंगे माल्यार्पण◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

शुरू हुआ राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का निर्माण

नई दिल्ली : आज से ठीक 87 साल पहले वर्ष 1931 में देश की आजादी के लिए हंसते-हंसते फांसी के फंदे पर झूल जाने वाले वीरों भगत सिंह, राजगुरू और सुखदेव को बेशक अभी तक शहीद का दर्जा नहीं दिया गया हो, लेकिन आजादी के बाद देश पर कुर्बान होने वाले सैनिकों के परिवार वालों के लिए एक अच्छी खबर है। अब जल्द ही देशवासी इंडिया गेट पर उन शहिदों की निशानियों को देखकर उनके देशभक्ती के जज्बे को महसूस कर सकेंगे। क्योंकि ढाई साल बाद सरकार को इसकी याद आ गई है और इसका निर्माण शुरू कर दिया गया है। बता दें कि पंजाब केसरी ने बीते वर्ष सात जनवरी को यह खबर प्रमुखता से प्रकाशित किया था।

समाजसेवी हरपाल राणा को आरटीआई के तहत राष्ट्रपति सचिवालय से मिली जानकारी के अनुसार इंडिया गेट के सी हेक्सागन पर बनने वाले राष्ट्रीय युद्ध स्मारक के निर्माण के लिए टेंडर आवंटित की जा चुकी है। इसके साथ ही पूरे इलाके की घेराबंदी कर निर्माण कार्य शुरू भी कर दिया गया है। आरटीआई से मिली सूचना के अनुसार इसका निर्माण इसी साल 15 अगस्त तक पूरा हो जाएगा। इस निर्माण के लिए इंडिया गेट से पीछे (मेजर ध्यानचंद स्टेडियम की तरफ) के हिस्से को ऊंचे-ऊंचे टीन के चादरों से ढक दिया गया है। हालांकि राष्ट्रीय युद्ध संग्रहालय बनाने में अभी भी कई रोड़े हैं। आरटीआई के अनुसार इसके लिए अभी तक डिजाइन का चयन नहीं हो सका है।

बता दें कि प्रधानमंत्री की घोषणा के बाद सात अक्टूबर 2015 में केंद्रीय कैबिनेट ने इसके राष्ट्रीय युद्ध स्मारक और राष्ट्रीय युद्ध संग्रहालय बनाने के लिए 500 करोड़ की लागत को अनुमति दी थी। लेकिन इसके बाद इस पर काम नहीं बढ़ सका था। आरटीआई से मिली जानकारी के अनुसार इनके वास्तुकला डिजाइन का चयन करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय वास्तुकला प्रतियोगिता आयोजन की गई थी। जिसके परिणाम संभवतः 31 दिसंबर 2016 तक घोषित किया जाना था। लेकिन इसमें भी देरी हुई और निर्माण कार्य टलता रहा।

अधिक जानकारियों के लिए यहाँ क्लिक करें।