BREAKING NEWS

सालों का इंतजार हुआ खत्म, PM मोदी आज अयोध्या में करेंगे राम मंदिर का भूमि पूजन, जानिए PM मोदी का पूरा कार्यक्रम◾लेबनान की राजधानी बेरूत में भयानक विस्फोट, 10 लोगों की मौत, कई लोग घायल ◾पाक के नए नक्शे को कांग्रेस ने बताया काल्पनिक, कहा- इससे तथ्य बदलने वाले नहीं ◾अयोध्या समारोह पर बोले BJP नेता लालकृष्ण आडवाणी- मंदिर ‘वास्तविक’ और ‘छद्म’ धर्मनिरपेक्षता के संघर्ष का प्रतीक◾महाराष्ट्र में कोरोना का विस्फोट जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 4.57 लाख के पार, बीते 24 घंटे में कोरोना के 7,760 नए केस◾पाकिस्तान द्वारा जारी नक्शे को भारत ने बताया मूर्खता, विदेश मंत्रालय ने कहा- इसकी कोई वैधता नहीं◾राजस्थान : सचिन पायलट के करीबी विधायकों ने कहा- गहलोत की ‘तानाशाहीपूर्ण’ कार्यशैली के खिलाफ लड़ेगे◾कर्नाटक में कोरोना का विस्फोट जारी, बीते 24 घंटे में 6,259 नए केस, संक्रमितों का आंकड़ा 1.45 लाख के पार ◾नेपाल की राह पर पाकिस्तान, इमरान सरकार ने पास किया विवादित नक्शा, कश्मीर को बताया PAK का हिस्सा◾दिल्ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 674 नए मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा 1.39 लाख के पार ◾केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान कोरोना पॉजिटिव, डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती◾उप्र : 24 घंटे में कोरोना के 2948 नए मामले की पुष्टि, 41 लोगों की मौत◾कोरोना के 82 फीसद मामले केवल 10 राज्यों में, मृत्युदर तेजी से घटकर 2.10 % हुई : स्वास्थ्य मंत्रालय◾राम मंदिर भूमिपूजन : मध्य प्रदेश की तरफ से 11 चांदी की ईंटें अयोध्या भेजेंगे कमलनाथ◾सुशांत मामले की CBI जांच की सिफारिश का विपक्ष ने किया स्वागत, तेजस्वी बोले- कोर्ट की निगरानी में होनी चाहिए जांच ◾UPSC सिविल सेवा परीक्षा-2019 का फाइनल रिजल्ट जारी, प्रदीप सिंह ने हासिल किया प्रथम स्थान◾राम मंदिर भूमिपूजन के अवसर पर महावीर मंदिर ट्रस्ट बांटेगा 1.25 लाख 'रघुपति लड्डू' का भव्य प्रसाद◾राम मंदिर भूमि पूजन से एक दिन पहले 'रामार्चा' शुरू, लगभग सात घंटे तक रहेगी जारी◾सुशांत सुसाइड केस : बिहार सरकार ने की CBI से जांच कराने की सिफारिश◾राम मंदिर भूमिपूजन पर मनीष तिवारी ने देशवासियों को दी शुभकामनाएं, ट्वीट किया महात्मा गांधी का भजन◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आखिर क्यों शीर्ष अदालत के फैसले से की छेड़छाड़ !

नई दिल्ली : शीर्ष अदालत के फैसले को एकदम गलत तरीके से टाइप कर उसे सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर अपलोड करने वाले दोनों पूर्व अधिकारी पुलिस पूछताछ में बिल्कुल भी सहयोग नहीं कर रहे हैं। जबकि पुलिस के सामने सबसे बड़ा सवाल यही है कि उन्होंने ऐसा क्यों किया? इसके पीछे उनकी क्या मंशा थी। इसके अलावा क्या उन्होंने अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए किया। इस काम के लिए उनकी किसी से कोई डील हुई थी।

वह सीधे अनिल अंबानी के संपर्क में थे या फिर किसी मीडिएटर के माध्यम से कोई डील हुई। जो उन्होंने शीर्ष अदालत के आदेश को ही गलत तरीके से टाइप कर सुप्रीम कोर्ट की वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। पुलिस सूत्रों की माने तो इसके पीछे बहुत बड़ा षड़यंत्र हो सकता है। एक आरोपी तपन तो रिटायर्डमेंट की कगार पर था। कहीं ऐसा तो नहीं कि उनके बीच अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए कोई मोटी डील हुई हो।

क्राइम ब्रांच की टीम इन तमाम सवालों से पर्दा उठाने के लिए आरोपियों से पूछताछ कर रही है। क्राइम ब्रांच के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक मामले की तह तक जाने के लिए क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया। जहां पुलिस ने अदालत को बताया कि मामला बेहद गंभीर है और आरोपियों की रिमांड बेहद जरूरी है। अदलात ने पुलिस की दलील सुनने के बाद दोनों आरोपियों को सात दिन के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया।

पुलिस सूत्रों की माने तो अभी तक मामले में कोई कंकरीट सामने नहीं आया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट में एरिक्सन कंपनी के कई सौ करोड़ रुपए के बकाया भुगतान के मामले में सुनवाई जारी थी। जस्टिस आरएफ नरिमन की अदालत ने अनिल अंबानी को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया। मगर आरोपी तपन (59) और मानव (45) ने न्यायाधीश का आदेश सुनकर उसे गलत तरीके से टाइप कर वेबसाइट पर अपलोड कर दिया। उन्होंने अनिल अंबानी को कोर्ट में पेश होने की छूट का आदेश वेबसाइट पर अपलोड कर दिया।