BREAKING NEWS

PM मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रम्प से फोन पर की 30 मिनट बातचीत, बिना नाम लिए PAK को बनाया निशाना ◾TOP 20 NEWS 19 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾आरक्षण विरोधी मानसिकता त्यागे संघ : मायावती◾कश्मीर पर भारत की नीति से घबराया पाकिस्तान, अगले तीन साल पाकिस्तानी सेना प्रमुख बने रहेंगे बाजवा◾चिदंबरम ने भाजपा पर साधा निशाना, कहा- सब सामान्य तो महबूबा मुफ्ती की बेटी नजरबंद क्यों◾कांग्रेस ने बीजेपी और RSS को बताया दलित-पिछड़ा विरोधी◾गृहमंत्री अमित शाह से मिले अजीत डोभाल, जम्मू कश्मीर के हालात पर हुई चर्चा◾RSS अपनी आरक्षण-विरोधी मानसिकता त्याग दे तो बेहतर है : मायावती ◾गहलोत बोले- कांग्रेस ने देश में लोकतंत्र को मजबूत रखा जिसकी वजह से ही मोदी आज PM है ◾बैंकों के लिए कर्ज एवं जमा की ब्याज दरों को रेपो दर से जोड़ने का सही समय: शक्तिकांत दास◾राजीव गांधी की 75वीं जयंती: देश भर में कार्यक्रम आयोजित करेगी कांग्रेस◾दलितों-पिछड़ों को मिला आरक्षण खत्म करना BJP का असली एजेंडा : कांग्रेस ◾उन्नाव कांड: SC ने CBI को जांच पूरी करने के लिए 2 हफ्ते का समय और दिया, वकील को 5 लाख देने का आदेश◾अयोध्या भूमि विवाद मामले पर आज सुप्रीम कोर्ट में नहीं हुई सुनवाई ◾जम्मू-कश्मीर में पटरी पर लौटती जिंदगी, 14 दिन बाद खुले स्कूल-दफ्तर◾बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का 82 साल की उम्र में निधन◾सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की पत्रकार तरुण तेजपाल की रेप आरोप रद्द करने की अपील◾उत्तरकाशी में बादल फटने से 17 की मौत, हिमाचल प्रदेश में बचाए गए 150 पर्यटक◾योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार टला, ये है वजह◾प्रियंका बोली- मंदी पर सरकार की चुप्पी खतरनाक, इसका जिम्मेदार कौन है?◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

नहीं घटी सीबीएसई फीस तो खर्च उठाएगी दिल्ली सरकार

नई दिल्ली : केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) द्वारा दसवीं और बारहवीं कक्षा की परीक्षा फीस बढ़ाने के फैसले को उचित न ठहराते हुए दिल्ली सरकार ने इसे वापस लेने की अपील की है। उप मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया का कहना है कि परीक्षा फीस बढ़ने के बाद गरीब वर्ग के बच्चों और उनके अभिभावकों पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा। ऐसे में सीबीएसई को इस बारे में सोचते हुए बढ़ाई गई फीस के फैसले को वापस लेने पर विचार करना चाहिए। 

वहीं उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो गरीब वर्ग के सभी बच्चों की फीस का खर्च दिल्ली सरकार उठाएगी। वहीं शिक्षाविदों और स्कूल मैनेजमेंट कमेटी(एसएमसी) सदस्यों का भी यह कहना है कि सीबीएसई द्वारा परीक्षा फीस बढ़ने से गरीब तबके के बच्चों पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा। 

साथ ही उनकी पढ़ाई भी प्रभावित होगी। सरकारी स्कूलों की बात करें तो यहां ऐसे कई छात्र-छात्राएं हैं जो बढ़ी हुई फीस देने में असमर्थ हैं। ऐसे में फीस बढ़ने के फैसले से बच्चों को दिक्कत हो सकती है।