BREAKING NEWS

अनुच्छेद 370 : लाइव स्ट्रीमिंग संबंधी याचिका पर सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट◾हफ्ते भर बाद भी मंत्रियों को नहीं मिला विभाग, भाजपा ने की आलोचना ◾बैंक धोखाधड़ी : ईडी ने रतुल पुरी की जमानत अर्जी का किया विरोध◾राहुल गांधी ने प्याज पर सीतारमण के बयान को लेकर तंज कसा ◾TOP 20 NEWS 05 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾PNB घोटाला : नीरव मोदी भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित ◾DTC और क्लस्टर बसों में लगेंगे CCTV कैमरे, पैनिक बटन, GPS : केजरीवाल ◾मायावती ने केंद्र द्वारा लाए गए नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और असंवैधानिक◾चिदंबरम ने पहले ही दिन जमानत की शर्तों का उल्लंघन किया: प्रकाश जावड़ेकर◾अर्थव्यवस्था पर असामान्य रूप से मौन हैं PM मोदी, सरकार को नहीं कोई खबर : चिदंबरम ◾रेपो दर में नहीं हुआ कोई बदलाव, RBI ने GDP ग्रोथ अनुमान घटाकर किया 5 फीसदी◾वायनाड में बोले राहुल- PM मोदी और अमित शाह ‘काल्पनिक’ दुनिया में जी रहे हैं इसलिए देश संकट में है◾जेल से बाहर आते ही एक्शन में दिखे चिदंबरम, संसद परिसर में मोदी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन◾प्रियंका ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा- प्रदेश में कानून व्यवस्था बेहतर होने के फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए◾महाराष्ट्र में शिवसेना को बड़ा झटका, भाजपा में शामिल हुए 400 पार्टी कार्यकर्ता◾उत्तर प्रदेश : उन्नाव में गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने की कोशिश, सभी आरोपी फरार ◾अमेरिका : पर्ल हार्बर शिपयार्ड में हुई गोलीबारी, बाल-बाल बचे भारतीय वायुसेना प्रमुख भदौरिया◾मध्य प्रदेश : रीवा में बस-ट्रक के बीच भीषण टक्कर, 9 की मौत, 10 लोग घायल◾पूर्व PM मनमोहन सिंह बोले- अगर नरसिम्हा राव ने मान ली होती गुजराल कि बात तो टल सकता था 1984 का दंगा◾कर्नाटक में 15 विधानसभा सीटों पर वोटिंग जारी, बीजेपी सरकार की किस्मत का होगा फैसला◾

दिल्ली – एन. सी. आर.

केंद्र ने केजरीवाल को डेनमार्क जाने की इजाजत नहीं देने के फैसले का किया बचाव

 kejriwal2019

केंद्र सरकार ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को डेनमार्क में जलवायु शिखर सम्मेलन में शिरकत करने की इजाजत नहीं देने के फैसले का बुधवार को बचाव करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम ‘मेयर स्तर के’ प्रतिभागियों के लिए है। वहीं, इस निर्णय से नाराज ‘आप’ ने इसे ‘‘बेतुका बहाना’’ और दिल्ली के लोगों का अपमान बताया है। 

दिल्ली सरकार के सूत्रों ने मंगलवार को बताया था कि केजरीवाल को डेनमार्क के कोपनहेगन में सी-40 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए मंगलवार दोपहर दो बजे रवाना होना था लेकिन वह नहीं जा सके। दरअसल, विदेश मंत्रालय ने अनुरोध की जांच की और राजनीतिक दृष्टिकोण से मंजूरी देने से इनकार कर दिया। 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा, ‘‘ यह मेयर स्तर का सम्मेलन था’’ और पश्चिम बंगाल का एक मंत्री इसमें हिस्सा लेने जा रहा है। 

बाद में केंद्र सरकार के सूत्रों ने कहा कि मुख्यमंत्रियों के लिए एक अलग प्रोटोकॉल होता है और उन्होंने इन दावों को खारिज किया कि विपक्षी पार्टियों को निशाना बनाया जा रहा है। 

विदेश मंत्रालय ने कहा कि केजरीवाल को विश्व मेयर सम्मेलन में भाग नहीं लेने की सलाह दी गई थी क्योंकि पैनल चर्चा में वक्ता के रूप में उनकी यात्रा अन्य देशों की भागीदारी के स्तर के अनुरूप नहीं है। 

केजरीवाल के लिये राजनीतिक मंजूरी के बारे में मीडिया के सवालों के जवाब में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘‘ राजनीतिक मंजूरी के विषय पर विदेश मंत्रालय द्वारा एक सुविचारित फैसला कई बातों पर आधारित है और इस फैसले को लेते समय समारोह की प्रकृति, अन्य देशों की भागीदारी का स्तर, दिए गए आमंत्रण का स्वरूप आदि को ध्यान में रखा गया।’’ 

इस बीच, आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सदस्य संजय सिंह ने कहा कि पार्टी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में यह ममाला उठाएगी। 

सिंह ने कहा कि शीला दीक्षित ने दिल्ली की मुख्यमंत्री के रूप में जलवायु सम्मेलन में हिस्सा लिया था। उन्होंने कहा कि यह ‘‘बहुत ही बेतुका बहाना’’है। 

आप के एक अन्य नेता राघव चड्ढा ने कहा कि केजरीवाल के संबंध में जावड़ेकर का बयान ‘‘गलत एवं भ्रामक’’ है। 

इस बीच, दिल्ली भाजपा प्रमुख मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर तंज कसते हुए कहा, ‘‘दिल्ली के लोग यह जानना चाहते हैं कि वह (केजरीवाल) मुख्यमंत्री हैं या मेयर।’’ 

गौरतलब है कि केजरीवाल को सम्मेलन के लिये नौ से 12 अक्टूबर के बीच आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करना था।